714 Views

चार साल बाद नीतीश की हुई घर वापसी, जदयू एनडीए में हुआ सामिल

जदयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक आज साढ़े दस बजे पटना में शुरु हो चुकी है। बैठक में जदयू के सभी आमंत्रित सदस्य शामिल हैं। बैठक मुख्यमंत्री आवास, 1 अणे मार्ग पर शुरू हुई है। बिहार के राजनीति में नाटकीय घटनाक्रम के साथ चार साल बाद फिर से जदयू एनडीए में सामिल हो गया | बैठक में जदयू नेता केसी त्यागी ने एनडीए में शामिल होने का प्रस्ताव रखा जो सर्वसम्मति से पारित हो गया। हालांकि पार्टी की तरफ से इसकी औपचाकिर घोषणा किया जाना बाकी है|

इसके साथ ही अब नीतीश कुमार के नेतृत्‍व में जदयू के केंद्र में बीजेपी के नेतृत्‍व वाले राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) का हिस्‍सा बनने का रास्‍ता साफ हो गया है. दरअसल हाल में बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह ने नीतीश कुमार को एनडीए में शामिल होने का औपचारिक आमंत्रण दिया था. यह आमंत्रण नीतीश कुमार के बीजेपी के साथ गठबंधन करने के बाद दिया गया था|

अब एनडीए में शामिल होने के साथ ही इस बात के भी कयास लगाए जा रहे हैं कि पीएम नरेंद्र मोदी के अगले कैबिनेट विस्‍तार में जेडीयू को भी जगह मिल सकती है और इसके कोटे से दो मंत्रियों को बनाया जा सकता है|

शरद और नीतीश गुट के लोग आपस में भिड़े 

इससे पहले पार्टी में जारी आंतरिक कलह अब हिंसक रूप लेने लगा है| शनिवार को इसकी बानगी पटना की सड़कों पर देखने को मिली जब सीएम हाउस के ठीक बाहर शरद और नीतीश गुट के लोग आपस में भिड़ गये| शनिवार को जेडीयू में बैठकों का दौर है| इसके लिये दोनों खेमों ने तैयारियां भी कर रखी थीं|

हालांकि राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में बगावती तेवर अपनाने वाले शरद यादव ने हिस्‍सा नहीं लिया| नीतीश के आवास पर आयोजित राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दौरान शरद यादव और लालू प्रसाद यादव के समर्थकों को बाहर विरोध में नारेबाजी करते देखा गया| नीतीश कुमार के बीजेपी के साथ हाथ मिलाने और महागठबंधन को तोड़ने के फैसले के खिलाफ शरद यादव ने बगावत का बिगुल बजा दिया है| भाजपा से हाथ मिलाने के नीतीश के फैसले का विरोध कर रहे शरद यादव के करीबी नेता भी एस के मेमोरियल हॉल में ‘जन अदालत’ नाम का एक कार्यक्रम करेंगे| दोनों बैठकों से साफ हो जाता है कि जदयू में दरार पड़ चुकी है और पार्टी टूट की ओर बढ़ रही है|

 

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: