नालंदा एसपी ने फिर किया एक अनोखी पहल, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी की इसकी सराहना


अब नालंदा पुलिस की एक और अभिनव प्रयोग की शुरुआत ‘पर्यटक मित्र’ की माननीय सीएम नीतीश कुमार ने राजगीर में आयोजित कैबिनेट की बैठक के बाद कर दी। सूबे में अपने-आप का एक ऐसा अनूठा प्रयोग जिसकी सीएम ने सभी जिलों को अनुकरण करने के लिए कहा।उन्होंने एसपी कुमार आशीष की इस सकारात्मक पहल को काफी सराहा।

Nalanda police
बता दें कि पर्यटक मित्र ‘अतिथि देवो भवः’ की तर्ज़ पर न सिर्फ पर्यटकों के लिए एक गाइड की भूमिका में होगी बल्कि उनकी सुरक्षा का भी पूरा ख्याल रखेगी ताकि देश विदेश से आने वाले पर्यटकों को कोई भी परेशानी न हो। विशेष वेश-भूषा मे सुसज्जित 04 कांस्टेबल और 01पुलिस पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गयी है। इसकी मॉनिटरिंग डीएसपी (सुरक्षा) ज्योति प्रकाश करेंगे। साथ ही इस गाड़ी में सवार पदाधिकारी अंग्रेजी व हिंदी भाषा में दक्ष होंगे।इसमे बाद मे अन्य विदेशी भाषाओं के जानकारी की ट्रेनिंग भी दी जाएगी। इस गाड़ी में ब्लैक कैट कमांडों सवार होंगे जो अत्याधुनिक संसाधन, वायरलेस सिस्टम व हथियार से लैस होंगे। इतना ही नहीं ‘100’ नंबर डायल करने से यह सीधे पुलिस कंट्रोल रूम से जुड़ जायेगी जो आवश्यकता के अनुसार पर्यटक मित्र वाहन को सूचना देगी ताकि पर्यटकों को तत्काल मदद मिल सके।मेडिकल किट से भी यह लैस होगी।

 

एसपी के अनुसार अभी प्रारंभिक दौर मे यह वाहन राजगीर और नालंदा के महत्वपूर्ण स्थलों पर पेट्रोलिंग करेगा। एसपी ने बताया कि प्रशिक्षण के माध्यम से पुलिस कर्मियों को देश और विदेश के पर्यटकों को जरूरी सुरक्षा देने, अभिरुचि, व्‍यवहार, बॉडी लेंग्‍वेज, पुलिस की छवि और शिकायत निवारण जैसे विषयों पर ट्रेंड किया गया है। इस मौके पर कैबिनेट के तमाम माननीय मंत्रियों- सचिवों के साथ डीजीपी श्री पी. के ठाकुर, आईजी नैयर हसनैन खान आदि मौजूद थे।

#दंगल: सामुदायिक पुलिसिंग के क्षेत्र मे नालंदा पुलिस का एक और सराहनीय कदम

हरियाणा के भिवानी जिले के बलाली गांव की बहनों और उनके पिता के संघर्षों पर आधारित आमिर खान की फिल्म दंगल कल यानी बुधवार को नालंदा पुलिस जिले की बेटियों को दिखाएगी। एसपी कुमार आशीष ने कहा कि हरियाणा की बेटियों के संघर्ष, लगन एवं जीत की सच्ची घटना और बेटियों के प्रति एक पिता के समर्पण पर आधारित इस फिल्म को सभी को ज़रूर देखनी चाहिए। समाज मे बेटियों के प्रति जो नकारात्मक अवधारणा रही है, उसको आज के बदलते परिवेश मे सकारात्मक सोच के साथ हम सब को मिलकर बदलना होगा। फिल्में इस दिशा मे जागरूकता फैलाने के लिए एक कारगर कदम साबित हो सकती है । दंगल फिल्म मे ऐसे ही सामाजिक मुद्दे को वास्तविकता का जामा पहनाया गया है।

इसी के तहत नालंदा पुलिस की ओर से स्कूल-कॉलेजों की छात्राओं को भी यह फिल्म कल दिखाई जाएगी ताकि बेटियों के प्रति समाज में सम्मान बढ़े।

प्रायोगिक तौर पर यह फिल्म कल यानी दिनांक 4जनवरी को वंदना सिनेमा में सुबह 11:30 से 14:30 तक दिखायी जाएगी। इस स्पेशल शो की सारी टिकटें जिले की बेटियों- छात्राओं के लिए आरक्षित कर ली गई है । इस दौरान बाहरी व्यक्तियों का प्रवेश वर्जित रहेगा।

नालंदा जिला पुलिस कप्तान कुमार आशीष की इस अनूठी पहल की नगर आयुक्त कौशल कुमार एवं डिप्टी मेयर शंकर कुमार ने काफी सराहना की है और कहा कि बेटियों को सशक्त करने की दिशा में किए जा रहे प्रयास के साथ नगर निगम भी सहयोग करेगी।

वही वंदना सिनेमा के मालिक अवधेश कुमार ने कहा कि यह एक सामाजिक पहल है जिसका हिस्सा बनकर मुझे भी अच्छा लग रहा है।
इस आयोजन मे रोटरी क्लब के इनर व्हील के सदस्याओं, नालंदा महिला कालेज की छात्राएं एवं ब्रह्मकुमारी समूह के सदस्याओं एवं अन्य जागरूक लोगों का भी सहयोग मिला है।