बिहार में क्रिकेट की बदहाली पर उप-मुख्यमंत्री ने BCCI पर साधा निशाना

खेल के क्षेत्र में बेहतर विकास का कार्य कर रहे डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने बीसीसीआई के बिहार के प्रति लचर रवैया के कारण फिर से निशाना बनाया है। तेजस्वी यादव ने पूछा कि बीसीसीआई ये बताए कि बिहार के लोग कब तक टीवी पर क्रिकेट का मैच देखेंगे. उन्होने कहा कि बिहार में खेल और खिलाड़ियों को जल्द ही बेहतर मौका मिलेगा इसके लिए सरकार और खेल विभाग के अधिकारी बेहतरी को लगातार भरपूर प्रयास कर रहे हैं. पटना में एक खेल प्रतियोगिता के उदघाटन में पहुंचे डिप्टी सीएम ने कहा कि खिलाड़ियों को मौका मिले और अच्छा इंफ्रास्टक्चर डेवलप हो ये मेरे एजेंडे में शामिल है.

तेजस्वी ने बीसीसीआई पर आरोप लगाते हुए कहा कि बिहार के खेल संघ के लोग लगातार बीसीसीआई के अधिकारियों से संपर्क में हैं लेकिन सही रूप से उनका सपोर्ट नहीं मिल पा रहा है. उन्होंने खेल की वर्तमान स्थिति को लेकर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि बीसीसीआई की तरफ से सहयोग नहीं मिलने के कारण ही बिहार में क्रिकेट जैसे गेम की स्थिति में सुधार नहीं हो सका है.

डिप्टी सीएम का कहना है की जब राज्य सरकार क्रिकेट के क्षेत्र में समग्र विकास की ओर लगी है तो बीसीसीआई क्यों नही बिहार का साथ दे रहा है, क्या बिहार के लोग बिहार में बैठकर लाइव क्रिकेट का आनंद उठा पाये ये संभव नही है.

बिहार के लोग लाइव मैच देख सकें इसके लिए तेजस्वी ने कहा कि बीसीसीआई से एमओयू बनाने का काम जल्द किया जाएगा इसके लिए सरकार का प्रयास जारी है. उन्होने कहा कि नालंदा के स्टेडियम निर्माण के साथ पटना का मोईनुल हक स्टे़डियम भी इंटरनेशनल स्टेडियम बने ये मेरा प्रयास है. उन्होने कहा कि अगर बीसीसीआई से सही सहयोग मिले तो  मोईनुल हक स्टेडियम में भी फ्लड लाइट लगाया जाएगा.