1218 Views

उपेन्द्र कुशवाहा की डिमांड से एनडीए में आ सकता है भूचाल, कट सकता है नीतीश कुमार का पत्ता

चुनाव नजदीक आते ही बिहार की राजनीति दिलचस्प होती जा रही है| सीटों के बटवारे के लिए एनडीए में घमासान मचा हुआ है| बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने बिहार आकर बंद कमरा में नीतीश कुमार से समझौता किया ही था कि एनडीए के दुसरे घटक दल रालोसपा ने अपनी महत्वाकांक्षा जाहिर कर बीजेपी नेतृत्व वाली एनडीए की मुसीबत फिर से बढ़ा दी|

उपेन्द्र कुशवाहा की पार्टी आरएलएसपी ने एनडीए में जदयू से अधिक सीटों की डिमांड रख दी है| यही नहीं, आरएलएस ने नीतीश कुमार को नहीं बल्कि उपेन्द्र कुशवाहा को 2020 विधानसभा चुनाव के लिए मुख्यमंत्री का चेहरा भी घोषित करने की मांग रख दी है|

रालोसपा के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा कि पिछले 4 सालों में उनकी पार्टी का कद काफी बढ़ा है ऐसे में  उन्हें जनता दल युनाइटेड(जदयू) से ज्यादा सीटें मिलनी चाहिए।

रालोसपा के उपाध्यक्ष और प्रवक्ता जितेंद्र नाथ ने एक अंग्रेजी अखबार को बताया कि जदयू और भाजपा के बीच सीट शेयरिंग को लेकर काफी बातें हुई है। उपेंद्र कुशवाहा बिहार की राजनीति के भविष्य हैं। बिहार में एनडीए का चेहरा बनाना चाहिए। जितेंद्र नाथ ने कहा कि जदयू ने पिछली बार लोकसभा में दो सीटें जीती थी जबकि रालोसपा ने तीन सीटों पर चुनाव लड़ा और उसे जीता भी।

गौरतलब है कि रालोसपा और आरजेडी नेतृत्व के बीच दो बैठकें हुई हैं। राजद के एक सूत्र की मानें तो रालोसपा ने छह से सात सीटों की मांग की थी। भाजपा की तुलना में राजद निश्चित रूप से रालोसपा को ज्यादा सीटों की पेशकश करेगी।

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: