470196-gas-lpg-cylinder
खबरें बिहार की बिहारी विशेषता राष्ट्रीय खबर

खुशखबरी : अब उत्तर बिहार में रसोई गैस की कमी नहीं होगी

मुजफ्फरपुर: 10 जून बिहार के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण और लाभदायक रहा।  बिहार को केंद्र सरकार के दो विभागों के तरफ से बिहार के लिए खुशखबरी आई।  एक तरफ मोतिहारी में रेल मंत्री सुरेश प्रभु बिहार के लिए कई योजनाओं का घोषणा कर रहे थे तो दुसरे तरफ मुजफ्फरपुर में केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) धर्मेंद्र प्रधान ने भी बिहार को खुशखबरी दी।  

dharmendra Muzaffarpur

केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) धर्मेंद्र प्रधान ने घोषणा किया कि ओडिशा के पारादीप से सीधे मुजफ्फरपुर तक पाइपलाइन से एलपीजी पहुंचेगी। यह गोरखपुर होते हुए लखनऊ तक जाएगी और साथ ही मोतिहारी में नया बॉटलिंग प्लांट खोला जाएगा।

इससे उत्तर बिहार में रसोई गैस की कमी नहीं होगी। वे इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड के प्रागंण में आयोजित विकास पर्व कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इससे पूर्व उन्होंने इंडेन बॉटलिंग प्लांट में दूसरे केरोजल का शुभारंभ भी किया।

शुक्रवार को मंत्री ने कहा कि उपभोक्ताओं की संख्या बढ़ रही है। इसको ध्यान में रखकर नये बॉटलिंग प्लांट खुलेंगे। देश में जितनी भी रिफाइनरी हैं उनको एक साथ जोड़ा जाएगा।

केंद्रीय मंत्री के घोषणा के अनुसार मोतिहारी में नये प्लांट की स्थापना से मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, सारण, सीवान, शिवहर, गोपालगंज, पश्चिमी चंपारण, पूर्वी चंपारण व वैशाली जिले को लाभ होगा।

केंद्रीय मंत्री ने यह भी कहा मोदी सरकार का दो वर्ष पूरे होने पर हम यहा अपनी अपलब्धि गिनाने नहीं बल्कि जनता को हीसाब देने आए है।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी देश में प्रधान सेवक के रूप में दो वर्षों से दिन रात काम कर रहे है।

मंत्री ने दावा किया कि बिहार में कुछ वर्ष पहले तक सौ में से सिर्फ 26 घरों में ही एलपीजी थी। पिछले साल काम किया। वर्ष 2016 में इसकी संख्या 36 तक पहुंच गई और सरकार का लक्ष्य लक्ष्य पांच करोड़ घरों तक गैस कनेक्शन पहुंचाना है, जिसमें बिहार में डेढ़ लाख घरों तक यह पहुंच चुका है।

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.