437 Views

बिहार के आईटीआई में 2500 पदों पर होगी भर्तियां, जल्द शुरू होगी प्रक्रिया

2700 इंस्ट्रक्टर , 535 ग्रुप इंस्ट्रक्टर , 325 प्राचार्य एवं उप प्राचार्य संवर्ग के पदाधिकारियों की आवश्यकता है।

बिहार के युवाओं के लिए नौकरी पाने का एक सुनहरा अवसर बिहार सरकार प्रदान कर रही हैं। बिहार के युवाओं को और अधिक प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए, राज्य सरकार सरकारी आइटीआइ के रिक्त पदों को भरेगी। बिहार सरकार खाली पड़ें पदों को भरने की प्लानिंग कर रही हैं। इसके लिए श्रम संसाधन विभाग को आदेश दे दिया हैं।

खबर के मुताबिक लगभग 2500 पदों को चरणवार तरीके से भरा जाएगा। इसको लेकर बहुत जल्द नोटिश जारी किया जा सकता हैं। पिछले दिनों विभाग के शीर्ष स्तर पर प्रशिक्षण निदेशालय की समीक्षा की गई। पाया गया कि खाली पदों के कारण कौशल विकास प्रभावित हो रहा है। अगर खाली पदों को भरा जाए तो सरकारी आईटीआई के प्रशिक्षण की गुणवत्ता और बेहतर हो जाएगी।

2500 पद पर होंगी भर्तियां

बता दें की वर्तमान समय में बिहार में 149 सरकारी आईटीआई हैं। इनमे 25,000 छात्र पढ़ाई करते हैं। यहां 2700 इंस्ट्रक्टर , 535 ग्रुप इंस्ट्रक्टर , 325 प्राचार्य एवं उप प्राचार्य संवर्ग के पदाधिकारियों की आवश्यकता है। लेकिन यहां बहुत से पद खाली पड़ें हैं। जिससे छात्रों की पढ़ाई प्रभावित हो रही हैं।

प्रशिक्षण के लिए खरीदे गये चीजों का सही तरीके से रखरखाव के खातिर 87 भंडार पाल तो प्रशिक्षण के अवधि के दौरान दुर्घटना होने पर प्राथमिक इलाज के लिए 120 कंपाउंडर के पद पर भी बहाली होने हैं। अब तक एक भी भंडार पाल को नियुक्त नहीं किया गया है। कार्यकारी प्रणाली में गतिशील कार्य करने वाले समूह प्रशिक्षक को भंडार पाल का काम दिया गया था, जो अभी भी चल रहा है। केवल दो कंपाउंडर कार्यरत हैं।

सबसे अधिक पद इंस्ट्रक्टर के खाली हैं

विभाग ने तय किया है कि इस बार बहाली की प्रक्रिया ठोक-बजाकर शुरू किया जाए। बता दें की सबसे अधिक पद इंस्ट्रक्टर के खाली हैं। जानकारी के अनुसार हर साल इंस्ट्रक्टर की नियुक्ति का मामला आता है तो मामला न्यायालय में चला जाता है। साल 2016 में 1200 गेस्ट इंस्ट्रक्टर को प्रशिक्षण देने हेतु आमंत्रित किया गया था लेकिन बाद में इन्हें भी हटाया गया।

1 अगस्त से शुरू होंगी ऑनलाइन क्लास

एक अगस्त से प्रदेश के सभी इंजीनियरिंग और पॉलिटेक्निक संस्थानों में ऑनलाइन क्लास लगेंगी। इस आशय के स्पष्ट आदेश विज्ञान एवं प्रावैधिकी विभाग ने जारी किये हैं।यह क्लास नियमित रूप से संस्थानों के खुलने तक जारी रहेंगे।

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: