160 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से दिल्ली-बिहार-हावड़ा के बीच चलेंगीं ट्रेनें, कैबिनेट ने लगाई मुहर

लम्बी दूरी तय करने के लिए आज भी ट्रेन लोगों के लिए सबसे बड़ा साधन है| बिहार के लोग रोज़गार को लेकर ट्रेन के माध्यम से देश के अलग-अलग हिस्सों में जाते हैं, मगर बिहार से गुजरने वाली सभी ट्रेनों की रफ़्तार बहुत कम होती है| इसको लेकर एक अच्छी खबर आ रही है|

सरकार ने दिल्ली-हावड़ा मार्ग पर ट्रेन की रफ्तार बढ़ा कर 160 किलोमीटर प्रति घंटा करने के रेलवे के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है| इससे यात्रा में करीब पांच घंटे कम लगेंगे| रातभर में ही गंतव्य स्थल तक पहुंचा जा सकेगा|

गौरतलब है कि इस रूट पर चलनेवाली ट्रेनें दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड तथा पश्चिम बंगाल से गुजरती है| इससे इन इलाकों के यात्रियों को फायदा होगा|

भी सबसे तेज चलने वाली राजधानी एक्सप्रेस से दिल्ली से मुंबई का सफर लगभग 15 घंटों में पूरा होता है| वहीं दिल्ली से हावड़ा जाने में लगभग 17 घंटे लगते हैं| दिल्ली-मुंबई मार्ग के लिए 2022-23 तक प्रॉजेक्ट की लागत 6,806 करोड़ रुपये होगी, वहीं दूसरे मार्ग के लिए लागत 6,685 रुपये होगी| यह रेल मंत्रालय के 100 दिनों के एजेंडे का हिस्सा था|

ये फैसले सोमवार को हुई कैबिनेट की बैठक में लिए गए| लेकिन इन्हें बुधवार को सार्वजनिक किया गया. कैबिनेट की उसी बैठक में कश्मीर संबंधी फैसलों पर चर्चा हुई थी| सरकार के एक बयान में कहा गया है कि इन मार्गों पर ट्रेनों की गति बढ़ने से बेहतर सेवाएं और सुरक्षा सुनिश्चित होगी और क्षमता का निर्माण होगा|

बयान में कहा गया है कि दिल्ली-मुंबई और दिल्ली-हावड़ा रेलखंड पर गति बढ़ाकर 160 किमी प्रति घंटे करने से यात्री ट्रेनों की औसत गति में 60 प्रतिशत तक की वृद्धि और मालढुलाई यातायात की औसत गति दोगुनी हो जाएगी| इन दोनों रेलखंडों पर 29 प्रतिशत यात्री यातायात और 20 प्रतिशत मालढुलाई यातायात है|

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: