2782 Views
1 Comments

खुलने वाली हो तो झट से चढ़ जायें ट्रेन पर, TTE आकर देगा टिकेट

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने दिया यात्रियों को एक नया सौगात, अगर खुलने वाली हो रेल और टिकट लेने का न हो समय तो झट से चढ़ जाएं, TTE आपके सीट पर आकर देगा टिकट।

अक्सर लोगो को इस दिक्कत का सामना करना पड़ता रहता है, सामने ट्रेन खुलने वाली रहती है और टिकट लेने का समय आपके पास नही होता। इससे हमेसा लोग इस दुविधा में पड़ जाते है कि ट्रेन पर चढे की नही, यदि टिकेट लेने जाते हैं तो ट्रेन छूट जायेगी और अगर ट्रेन पर चढ़ जाते है तो TTE को फाइन देना या जेल का चक्की चलाना पड़ जाता है।

तो अब घबड़ाने की कोई जरूरत नहीं है। इस बार जब ट्रेन सामने हो और आपके पास टिकट कटवाने का समय न हो तो ज्यादा कुछ सोचे बिना ट्रेन में चढ़ जाएं। क्योंकि रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने यात्रियों को एक नई सौगात दी है।

जी हां, अब यात्रियों के लिए ट्रेन में भी टिकट उपलब्ध होगा, वो भी बिना कोई जुर्माना दिए बिना। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने ट्रेन में सफ़र करने वालों को बड़ा तोहफा दिया है। अब बिना टिकट के यात्रियों ट्रेन में चढने पर भी जुर्माना नहीं देना होगा ।
रेलवे की नई योजना के तहत अगर आप बिना टिकट ट्रेन में चढ़ गए हैं तो जुर्माने से डरने की जरुरत नहीं है। बल्कि आपको चलती ट्रेन में टिकट उपलब्ध करने की व्यवस्था कर दी गई है।
अब सुपरफास्ट ट्रेनों में TTE को टिकट मशीन मुहैया कराई गई है, जिससे यात्रियों को ट्रेन में भी टिकट मिल जाएगा। ये खबर बिहारवासियों के लिए विशेष तौर पर राहत की सांस लेकर आया है। बता दें कि अभी कुछ दिनों पहले ही बिहार में पूर्व मध्य रेल की ओर से एक विशेष अभियान चलाया गया था।

अभियान के तहत रेलवे पुलिस और अधिकारियों ने मिल कर करीब 45 हजार लोगों को गिरफ्तार किया था। आपको जान कर हैरानी होगी कि इन में से 40 हजार यात्री बिना टिकट के पकड़े गए थे।
अभियान के दौरान चेन पुलिंग, धूम्रपान, बिना टिकट/उचित प्राधिकार के साथ यात्रा करने वालों समेत अन्य अवरोधक गतिविधियों में शामिल लगभग 45 हजार लोगों को हिरासत में लिया गया, जिनपर रेलवे एक्ट की विभिन्न धाराओं के अन्तर्गत कार्रवाई की गई।
हिरासत में लिये गये लोगों में से अंतिम रूप से दोषी पाए गए लोगों से दण्डस्वरूप लगभग 1165 करोड़ रूपए वसूले गए थे। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि बिहार में हर साल कितने लोग बिना टिकट के यात्रा करते होंगे।कुछ लोगों को छोड़ दें तो इनमें से अधिकतर लोग टिकट खिड़की पर लंबी लाइन की वजह से टिकट नहीं ले पाते। ऐसे में नया नियम इनलोगों के लिए राहत की सांस लेकर आया है।
रेलवे की इस योजना के पहले चरण में लखनऊ मेल, गरीब रथ, अर्चना सुपरफास्ट, राजधानी सुपरफास्ट आदि के TTE को चलती ट्रेन में टिकट काटने के लिए हैंड-हेल्ड मशीन दी गई है। अगर आप बिना टिकट के ट्रेन में चढ़ गए है तो आप TTE से संपर्क कर सकते हैं।
टीटीई आपको तय किराये से दस रुपए अतिरिक्त लेकर इसी मशीन से टिकट देंगे। इतना ही नहीं जैसे ही ट्रेन में सीट खाली होगी, वेटिंग टिकट यात्रियों को सीट मुहैया कराई जाएगी।
इस नई टिकट मशीन के जरिए ट्रेन के हर कोच में खाली बर्थ और किस स्टेशन पर मुसाफिर उतरेगा, इसकी जानकारी मिलती रहेगी। रेलवे ने इस योजना की शुरूआत TTE की मनमानी को खत्म करने के लिए की है।

दरअसल ट्रेन छूटने की हालत में लोग बिना टिकट के ट्रेन में चढ़ जाते थे और TTE उनसे मनमाना पैसा वसूलते थे। इतना ही नहीं वोटिंग टिकट वाले यात्रियों को बर्थ न होने की बात करके दूसरों से पैसा लेकर वो उन्हें सीट दे देते थे।
उम्मीद किया जा रहा है कि इस नया बनाया गया कानून से यात्रियों को काफी हद तक सहूलियत मिलेगी।

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: