पीएम मोदी की राह पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, बिहार में ला रहे हैं स्टार्टअप बिहार

​बिहार उद्यमी संघ (BEA) ने दावा किया है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार छठ बाद ‘स्टार्ट अप बिहार’ योजना लांच करेंगे। ‘बिहार स्टार्ट अप पॉलिसी 2016’ बिहार उद्यमी संघ के सहयोग से बनाई गई है।

राज्य सरकार स्टार्टअप के जरिए युवाओं को बेहतरीन मौका दे रही है। इस योजना में भाषा बाधा न बने इसका ख्याल रखें। आज स्टार्टअप की बड़ी भूमिका है।

बिहार उद्यमी संघ के सचिव अभिषेक सिंह ने बताया कि यह योजना मुख्यमंत्री की पहल पर शुरु की गई है। जो जमीनी स्तर पर युवाओं के बीच काम करेगी। शुरुआती दौर में युवाओं को बिजनेस की शुरुआत करने के लिए सरकार फंड मुहैया कराएगी। सिंह ने कहा कि जिस दिन ‘स्टार्टअप बिहार’ की लाॉंचिंग होगी, उस दिन मुख्यमंत्री बीज खरीदने के लिए 10 लाख रुपये देंगे। उन्होंने कहा कि बिहार पहला ऐसा राज्य होगा, जो बीज खरीदने के लिए युवाओं को फंड मुहैया कराएगा। हालांकि, उद्योग विभाग के अधिकारियों ने यह नहीं बताया कि योजना की शुरुआत, किस तारीख की होगी।

बिहार देश का पहला राज्य हैं जिसने स्टार्टअप योजना के लिए 500 करोड़ का कोष बनाया है। सोमवार से योजना के तहत आवेदन जमा किए जाएंगे। इसके लिए पोर्टल बनाया गया है। सर्च कमेटी आवेदनों को चुनेगी और इसे इंक्यूबेटर के पास भेजा जाएगा। चुने गए आइडिया पर काम करने के लिए सरकार फंड मुहैया कराएगी। विबरेज कॉरपोरेशन के प्रबंध निदेशक मिथिलेश मिश्रा ने कहा कि दुनिया में आज तक कोई आइडिया फेल नहीं हुआ है।
शानदार बिजनेस आइडिया पर मिला सम्मान

उधर, बिहार उद्यमी संघ (बीईए) की ओर से ‘पिच 4 बिहार नामक कार्यक्रम का शुक्रवार को आयोजन किया गया। इसमें बेहतर बिजनेस और मोबाइल एप आइडिया देनेवालों को प्रोत्साहित किया। एसोसिएशन के अध्यक्ष शैलेन्द्र कुमार ने बताया कि नए आइडिया को प्रोत्साहित करने के लिए यह सबसे बड़ा कार्यक्रम है। 612 आवेदनों में से 25 को चुना गया। इनमें सबसे 6 बेहतरीन आइडिया देनेवाले पुरस्कृत किए गए। पुरस्कार वितरण सहकारिता मंत्री आलोक मेहता द्वारा किया गया।

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: