15 KM चल कर जाबाज ऑफिसर ने छुड़ाया दो को किडनैपर्स के चंगोलों से !

पटना,जान कर आपको भी बहुत खुशी होगी उस जाबाज ऑफिसर की कहानी जिसके किस्से-और-कहानियों की चर्चे शुरू से गुजते आये है ! जी फिर से एक हकीकत कहानी कोई अंजाम देने वाले कोई और नही वही काबिल और जाबाज ऑफिसर है जिनका नाम लेते ही अपराधियों के पैरों तले जमीन खिसक जाते है !

आपको बता दूँ की ये कोई और ऑफिसर नही ये वही मनु महराज है जिन्होंने अच्छे-अच्छे अपराधियों के छक्के छुड़ाए है !आइये हम आपको बताते है आये दिनों इन्होंने किस घटना को अंजाम दिया है!

आये दिनों आईपीएस मन्नु महराज ने 15 KM चल कर दो भाइयों को किडनैपर्स से छुड़ाया और मालूम होता है की दोनों भाई एक कारोबारी भी है !मन्नु महराज ने 100 लोगों की टीम के साथ लगभग 10 KM पैदल चल कर पहारी रास्ते के बीचों-बिच इस  घटना को अंजाम दिया !

आपको बता दें की आज से पांच दिन पहले दिल्ली के दो कारोबारी भाइयो को बुलया  गया और किडनैप कर लिया गया !और 5 करोड़ की डिमांड की गई थी उनके रिहाई के बदले !शुरूआती जाँच के दौरान पता चला की दोनों कारोबारी भाइयों को लखीसराय के एक वैसे जंगल में रखा गया है जिस जंगल को नक्सलियों का गढ़ माना गया है,लेकिन इस मामले को किसी और के हवाले ना कर के जाबाज ऑफिसर मन्नु महराज को दे दिया गया और उन्होंने इसे अंजाम देने के लिए 8 अलग-अलग टीम में  लगभग 100 पुलिसकर्मियों को साथ लेकर निकल चले !

बतया जा रहा है की करवाई के दौरान एक पिंटू नाम के अपराधी ने बतया की फायरिंग से घबरा कर सरगना रंजित डॉन,ललन उर्फ़ लालू,मनोज यादव सहित कई अज्ञात लोग जंगल से भाग निकले है ! ऑपरेशन बुधबार सुबह पूरा हुआ और दोनों कारोबारियों भाई को सही सलामत अपराधियों को चंगुल से वापस लाया गया!

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: