स्पेशल ट्रेन से लौट रहे मजदूरों को 500-500 रूपये देगी नीतीश सरकार, मगर ये है शर्त

इसके अलावा अभी तक 19 लाख लोगों के खाते में पैसा भेजा दिया गया है

श्रमिक ट्रेन से बिहार आ रहे लोगों को ट्रेन का किराया देने की जरुरत नहीं है| उसका किराया राज्य और केंद्र सरकार मिलकर रेलवे को दे रही है| इसके साथ बिहार के मुख्यमंत्री ने एक बड़ा ऐलान किया है| स्पेशल ट्रेन से बिहार आने वाले लोगों को बिहार सरकार ट्रेन के किराया के साथ 500 रूपये और देगी|

सोमवार को मुख्यमंत्री ने एक विडियो जारी करते हुए घोषणा यह घोषणा की| उन्होंने कहा कि आपको रेल किराया नहीं देना होगा| यह हमारी जिम्मेदारी है| बिहार वापस आने वाले छात्र, मजदूर और अन्य लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रखंड मुख्यालय में बने  क्वारंटाइन केंद्र में उनके खाने-पीने, रहने, चिकित्सा, शौचालय की बेहतर व्यवस्था की गई है।

गौरतलब है कि यह 500 रूपये उन्हें ही मिलेगी जो श्रमिक स्पेशल ट्रेन के जरिये बिहार पहुचेंगे और 21 दिन का क्वारंटाइन पूरा करेंगें| प्रत्येक व्यक्ति को रेल किराया के अतिरिक्त 500 रुपये दिया जाएगा या बाहर से आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को न्यूनतम एक हजार रुपये दिया जाएगा।

नीतीश कुमार ने यह भी कहा कि बाहर फसे लोगों को बिहार सरकार उनके खाता में 1000 रूपये भेज रही है| अभी तक 19 लाख लोगों के खाते में पैसा भेजा दिया गया है| बाकी बचे लोगों के खाते में भी जल्द पैसा भेजा जायेगा|

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: