5960 Views

UPSC Result 2019: यूपीएससी में बिहारियों का दबदबा कायम, मधुबनी की चित्रा को 20वां रैंक

संघ लोक सेवा आयोग ने सिविल सेवा परीक्षा 2018 (UPSC Civil Services Result 2018) का फाइनल रिजल्ट शुक्रवार को जारी कर दिया| इसमें बिहार के कई अभ्यर्थियों ने सफलता पायी है|

इनमें मधुबनी की बेटी चित्रा मिश्रा ने 20वां रैंक हासिल किया है| वहीं, बिहार की राजधानी पटना के कारोबारी सुनील खेमका की बेटी सलोनी को 27वां रैंक मिला है, जबकि पटना के ही कारोबारी कमल नोपानी के बेटे आयुष नोपानी को 151वां रैंक मिला है|

इसी तरह जमुई, नालंदा, दरभंगा, बेगूसराय, वैशाली आदि जिलों के अभ्यर्थियों ने भी सफलता हासिल की है।

मिल रही जानकारी के अनुसार बिहार के जमुई जिले के सिकंदरा निवासी सुमित कुमार को 53वीं रैंक, नालंदा जिले के सौरभ सुमन यादव को 55वीं, मधुबनी के नित्यानंद झा को 128वीं, बेगूसराय के गौरव गुंजन को 262वीं तथा वैशाली के रंजीत कुमार को 594वीं रैंक मिली है। देर रात तक और भी सफल अभ्‍यर्थियों के सफल होने की सूचना मिलने की उम्‍मीद है। इसके अलावा मधुबनी की चित्रा मिश्रा को 20वीं रैंक मिली है।

वही  इसमें बांबे आइआइटी से बी. टेक कनिष्क कटारिया ने टॉप किया है जबकि सृष्टि जयंत देशमुख महिलाओं में अव्वल आई हैं। वैसे ओवर ऑल में उनकी पांचवीं रैंक है।

पीएससी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि आयोग ने आइएएस, आइपीएस, आइएफएस जैसी सेवाओं में नियुक्ति के लिए कुल 759 (577 पुरुष तथा 182 महिला) उम्मीदवारों के नामों की सिफारिश की है। अनुसूचित जाति से आने वाले कटारिया ने कंप्यूटर साइंस में बी. टेक किया है। उन्होंने वैकल्पिक विषय के रूप में गणित लिया था। महिलाओं में शीर्ष आने वाली देशमुख, राजीव गांधी प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, भोपाल से केमिकल इंजीनियरिंग में बी. ई हैं।सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा तीन जून 2018 को आयोजित की गई थी।

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: