नीतीश का ऐलान, पटना मैट्रो को जल्द मिलेगा मंजूरी, अगले साल से शुरू होगा काम

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को कहा कि पटना मेट्रो के प्रस्ताव को केंद्र से न्यूनतम समय में मंजूरी मिल जाएगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक ओवरब्रिज के उद्घाटन के मौके पर यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि हाल ही में केंद्रीय नगर विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी पटना आए थे। यहां उनके साथ उनकी मुलाक़ात हुई। उस बैठक के दौरान बिहार सरकार को जल्द इस बारे में प्रस्ताव फ़ाइनल कर भेजने के लिए कहा गया हैं। उन्होनें आश्वस्त किया है कि राज्य का नया प्रस्ताव पहुंचते ही केन्द्र सरकार शीघ्र उसकी मंजूरी दे देगी।

नीतीश ने कहा कि उनकी सरकार मेट्रो रेल के लिए प्रयासरत है। राजधानी पटना में मेट्रो रेल के निर्माण में कोई बाधा न हो इसलिए जितने फ़्लाइओवर बनाए गए हैं, उसके डिज़ाइन में इस बात का विशेष रूप से ध्यान रखा गया है। राजधानी पटना में जनसंख्या के दबाव के मद्देनज़र नीतीश ने पटना बाइपास के इलाक़े में एक नए फ़्लाइओवर के निर्माण की भी घोषणा की।

पटना से बिहटा एयरपोर्ट तक बनेगा फ्लाईओवर

मुख्यमंत्री ने कहा- बाइपास में ऐसा फ्लाईओवर का निर्माण होगा जिससे एनएच से संपर्क सीधा बना रहे। अंतरराष्ट्रीय स्तर के नये बस टर्मिनल को भी फ्लाईओवर की सुविधा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि बिहटा में एयरपोर्ट का निर्माण हो रहा है जिसके टर्मिनल बिल्डिंग के लिए राज्य सरकार ने अपनी तरफ से जमीन मुहैया करायी है। यातायात आसान करने के लिए ही बेली रोड पर लोहिया पथ चक्र और पटना नहर के ऊपर दीघा-एम्स एलिवेटेड फ्लाईओवर का निर्माण तेजी से चल रहा है।

मल्टीलेवल पार्किंग के ऊपर बनेगा रेस्टोरेंट

पटना जंक्शन के पास बने स्टेशन रोड फ्लाईओवर का उद‌्घाटन करने के बाद मंगलवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि इस नवनिर्मित फ्लाईओवर से गांधी मैदान जाने के लिए एग्जीबिशन रोड फ्लाईओवर को रिंग कनेक्टीविटी दी जा रही है। पटना जंक्शन के करबिगहिया की तरफ भी अब तेजी से फ्लाईओवर का निर्माण पूरा होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि फ्लाईओवर के उत्तर की तरफ बने मल्टीलेवल पार्किंग के ऊपर शानदार रेस्त्रां बनेगा। जिसमें हर तरह का बिहारी व्यंजन उपलब्ध होगा। उन्होंने 351वें प्रकाश पर्व में श्रद्धालुओं को सेवा अर्पित करने के लिए बिहारवासियों को दिल से धन्यवाद दिया।

सीएम ने कहा कि बिहार में आधारभूत संरचना के क्षेत्र में तेजी से निर्माण हुआ है और आगे भी निर्माण होना है। राज्य की बाहर की एजेंसियां काम कर रहीं हैं। ऐसे में क्षमतावान बिहारियों का आह्वान करता हूं कि बेहतर क्षमता वाली एजेंसी बनाएं और निर्माण कार्य करें। इससे यहां ही स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा और यहां का पैसा यहीं के लोगों के बीच में रहेगा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री को पथ निर्माण विभाग के प्रधान सचिव श्री अमृत लाल मीणा ने प्रतीक चिह्न भेंट किया। वहीं, पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने कहा कि हम पूरी दक्षता और क्षमता से काम कर रहे हैं। अगले वर्ष मीठापुर बाजार की तरफ बने फ्लाईओवर को चालू कर देंगे। करबिगहिया की तरफ निर्माणाधीन फ्लाईओवर के काम में भी अब तेजी आएगी।

गांधी सेतु के समानांतर पुल निर्माण की डीपीआर मंजूर

 

डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने कहा कि सभी जिला मुख्यालय फोरलेन सड़क और अनुमंडल-प्रखंड मुख्यालय टू लेन सड़क से जुड़ेंगे। एनडीए सरकार का शुरू से सड़क निर्माण पर फोकस रहा है। वर्ष 2005 से एनडीए सरकार ने काम करना शुरू किया। इसका असर यह है कि इस वर्ष राज्य की कुल योजना व्यय का लगभग 19 प्रतिशत यानी 14,286 करोड़ रुपए सिर्फ सड़क निर्माण पर खर्च किए जा रहे हैं। यही नहीं प्रधानमंत्री द्वारा घोषित पैकेज की 53 हजार करोड़ की सड़क परियोजनाओं का विभिन्न स्तर पर काम शुरू हो चुका है। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी सेतु के समानांतर 5 हजार करोड़ की लागत से 8 लेन पुल के निर्माण के लिए भारत सरकार ने डीपीआर की मंजूरी दे दी है। महात्मा गांधी सेतु के सुपर स्ट्रक्चर को बदल कर 2020 तक उसे नवजीवन दिया जा रहा है। जीरो माइल से मसौढ़ी तक फोरलेन सड़क का निर्माण कराया जाएगा, जबकि मसौढ़ी से डोभी तक फोरलेन का काम जारी है।

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: