खुशखबरी: बिहार बोर्ड के परीक्षा पैटर्न में होने जा रहा है बड़ा बदलाव

बिहार बोर्ड के तरफ से एक बहुत बड़ी खबर आ रही है जिसे जान बच्चें खुशी से झूम उठेंगे । बिहार बोर्ड इंटर रिजल्ट खराब होने के कारण चौतरफा घिरा बिहार बोर्ड अपने परीक्षा पैटर्न में बहुत बड़ा बदलाव करने जा रहा है ।ऐसा इसलिए ताकि सीबीएसई की तर्ज पर बिहार बोर्ड के छात्रों को भी ज्यादा अंक मिल सके। इसके लिए पांच सदस्यीय कमेटी गठित कर दी गई है। अगले वर्ष की परीक्षा से ही इसे लागू किए जाने का प्रस्ताव है।

इस कमेटी में निदेशक शैक्षणिक अखिलेश्वर पांडेय, परीक्षा नियंत्रक योगेश मिश्रा, सचिव अनूप कुमार सिन्हा और दो रिटायर आईएएस सुरेश कुमार सिन्हा व सुधीर कुमार श्रीवास्तव को रखा गया है। बोर्ड की ओर से इस कार्य के लिए कई शिक्षा विशेषज्ञों से भी संपर्क किया जा रहा है। जल्द ही इस संबंध में बोर्ड की बैठक भी होगी। इस साल इंटर का रिजल्ट बहुत खराब हुआ था। 65% छात्र फेल हो गए थे। मैट्रिक में भी ग्रेस देने के बाद 50% छात्र ही पास हो सके थे जिसके बाद स्कूलों की व्यवस्था पर कई तरह के सवाल उठाए जाने लगे थे। बिहार बोर्ड में मैट्रिक व इंटर को मिलाकर 30 लाख छात्र शामिल होते हैं।

ज्ञात हो कि दूसरे बोर्ड के अपेक्षा बिहार बोर्ड के छात्रों को कम अंक आने के कारण उनके पास मेधा होने के बाद भी वे देश के प्रतिष्ठित कॉलेजों में नामांकन लेने से वंचित रह जाते हैं ।

 

परीक्षा पैटर्न व मूल्यांकन पद्धति में सुधार के लिए योजना बनायी जा रही है। परीक्षा पैटर्न से लेकर मूल्यांकन पद्धति में बदलाव को लेकर समीक्षा की जा रही है। इसके लिए पांच सदस्यीय कमेटी बना दी गई है।

– आनंद किशोर, अध्यक्ष, बिहार बोर्ड

 

मॉडल प्रश्न पत्र भी पहले होगा उपलब्ध : मैट्रिक और इंटर के प्रश्नों के प्रारूप में बदलाव के अलावा छात्रों को मॉडल प्रश्न पत्र का कई सेट वेबसाइट पर पहले ही उपलब्ध करा दिया जाएगा। ताकि छात्र पहले से ही बेहतर तरीके से तैयारी कर सकेंगे।

 

 

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: