राजनीति: बिहार आ रहें हैं योगी आदित्यनाथ, लालू-नीतीश के गढ़ में भाजपा फतह की तैयारी

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ मई में पटना की एक सभा को संबोधित करेंगे। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के तीन साल पूरा होने के मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पटना में जनसभा को संबोधित कर लालू प्रसाद और नीतीश कुमार को चुनौती देंगे। बतातें चलें कि 27 अगस्त को महागठबंधन की भी पटना में सभा होनी है। इन दोनों सभा को 2019 की तैयारी से जोड़कर देखा जा रहा है।

 

उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति समेत अन्य अग्रणी नेता और सांसद पिछले तीन साल में नरेंद्र मोदी सरकार की सफलताएं गिनाने के लिए बिहार आएंगे. नरेंद्र मोदी सरकार 26 मई 2017 को अपना तीन साल पूरा करेगी. बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘हमारे राष्ट्रीय और राज्य के महत्वपूर्ण नेता पिछले तीन वर्षों में नरेंद्र मोदी सरकार की सफलताएं बताने के लिए देश के विभिन्न हिस्से में जाएंगे.’

सूत्रों का कहना है कि मई के अंतिम सप्ताह और जून के पहले सप्ताह के बीच कभी भी जनसभा का आयोजन हो सकता है। योगी जहां पटना में जनसभा को संबोधित करेंगे, वहीं मौर्य बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिले नालंदा में लोगों को संबोधित करेंगे।

सुशील मोदी ने कहा, ‘पार्टी के सघन अभियान के तहत उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति समेत अन्य अग्रणी नेता और सांसद 25 मई से 15 जून के बीच राज्य का दौरा करेंगे.’

 

27 अगस्त को लालू करेंगे सभा

 

राजद प्रमुख लालू प्रसाद की भी 27 अगस्त को पटना के गांधी मैदान में सभा होनी है। इसमें सोनिया गांधी, ममता बनर्जी, अखिलेश यादव, नीतीश कुमार अरविंद केजरीवाल समेत सारा विपक्ष के बड़े नेता शामिल होंगे। लालू प्रसाद रैली को सफल बनाने के लिए शीघ्र ही पूरे प्रदेश में अपने सभा करेंगे।

 

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: