आईपीएस निशांत तिवारी को आस्ट्रेलियाई युनिवर्सिटी ने किया सम्मानित

अक्सर अपने पुलिस कफ्तानी और अन्य समाजिक कार्यों के लिए सुर्खियों में रहने वाले बिहार के पुर्णिया जिले के पुलिस कफ्तान निशांत तिवारी को आस्ट्रेलिया की चार्ल्स स्टुअर्ट यूनिवर्सिटी की ओर से मिड करियर ट्रेनिंग प्रोग्राम के लिए सम्मानित किया गया है उन्हें यह सम्मान आस्ट्रेलिया की यह खास ट्रेनिंग प्रोग्राम पूरा करने के लिए प्राप्त हुआ.
निशांत पिछले कुछ दिनों से इस मिड करियर ट्रेनिंग प्रोग्राम को पूरा करने में लगे हुए थे. उन्हें इस प्रोग्राम को पूरा करने के बाद यूनिवर्सिटी की ओर से डिग्री दी गयी. इस प्रोग्राम को पुलिसिंग में बड़ा महत्वपूर्ण माना जाता है. सुरक्षा की चुनौतियों और साइबर क्राइम की तकनीक से दुनिया भर के नामित पुलिस अधिकारियों को यूनिवर्सिटी ट्रेंड करता है.

निशांत तिवारी ने यह सम्मान पाने के बाद काफी ख़ुशी जाहिर की है और कहा है कि यह सम्मान उनके लिए बहुत खास है. इस अवार्ड समारोह में एमसीटीपी कोर्स (NPA) के DD, पॉलसन, एमसीटीपी के डायरेक्टर और चार्ल्स स्टुअर्ट यूनिवर्सिटी के जॉन डाइन उपस्थित थे. इस दौरान सभी ने ट्रेनिंग प्रोग्राम में निशांत के समर्पण की खूब तारीफ की.

 2005 बैच के आईपीएस अधिकारी निशांत कुमार तिवारी पूर्णिया में दो बार एसपी का पदभार संभालने के पूर्व गया सहित कई अन्य जिलों में भी एसपी के रूप में सराहनीय कार्य कर चुके हैं. एसपी निशांत कुमार तिवारी 2005 बैच के टॉपर आइपीएस थे. इसके लिये उन्हें प्रधानमंत्री के द्वारा पुरस्कृत भी किया जा चुका है. इनके द्वारा लिखित पुस्तक हेरीटेज आफ नालंदा को आक्सफोर्ड से प्रकाशित हुई है जिसे एक साथ विश्व के कई देशों में पढ़ी गयी है.निशांत बेहतर पुलिसिंग और सोशल मीडिया पर अपनी सक्रियता के लिए जाने जाते हैं.निशांत तिवारी भोजपुरिया माटी में जन्‍मे हैं. जहां रहे, नाम कमाया है . पब्लिक को फ्रेंड बनाना निशांत तिवारी की पुलिसिंग का स्‍टाइल है . 

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: