मुसीबत में अपना बिहार, कोसी नदी के प्रकोप से 200 घर बह गये

flood in bihar

बिहार के सुपौल जिले में कोसी के उफान के कारण निर्मली के घोघरिया पंचायत में 200 से अधिक घर बस गए है। कई पंचायतों के निचले इलाकों के गांवों में बाढ़ का पानी घुस गया है। बाढ़ के कारण ग्रामीण दहशत में आ गए है। कई गांवों के लोग उंचे स्थान पर जाने लगे है।

 

जानकारों ने बताया की शनिवार को कोसी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा था. शाम के चार बजे कोसी का जलस्तर 2 लाख 32 हजार 595 घनमीटर प्रति सैकंड बढ़ते क्रम में रिकॉर्ड दर्ज किया गया जो इस साल के बाढ़ अवधि के दौरान सबसे अधिक जलस्तर है.

– इधर, बाढ़ के बढ़ते खतरे के बाद सरकार भी सतर्क हो गई है। नदियों पर सेटेलाइट से नजर रखी जा रही है।
– शनिवार शाम 4 बजे कोसी के जलस्तर में 2 लाख 32 हजार 595 घनमीटर प्रति सेकंड की रिकॉर्ड वृद्धि दर्ज की गई।

– इधर, नेपाल बराज द्वारा 2 लाख 50 हजार क्यूसेक पानी छोड़े जाने से गोपालगंज जिले में गंडक नदी का जलस्तर लगातार बढ़ने लगा है।

– औरंगाबाद जिले के रुद्र बिगहा गांव में नौ घर पानी के कारण गिर गए। कई परिवारों ने घर छोड़ कर दूसरे के घरों में पनाह ली है।

 

 

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: