खुशखबरी! सुपर 30 के संस्थापक आनंद कुमार ने 10वीं के छात्रों के लिए की बहुत बड़ी घोषणा

बिहार के महान गणितज्ञ आनंद कुमार एक बहुत बडी खुशखबरी दिया है। विश्व के सर्वश्रेष्ठ स्कूलों  में एक और हर साल 30 गरीब बच्चों का आईआईटी में पढने का सपना पूरा कराने वाले विश्व प्रसिंद्ध पटना के सुपर 30 में अब 10वीं के छात्रों का दाखिला होगा।

 

आईआईटी में दाखिले के लिए आयोजित जेईई परीक्षा में शामिल होने वाले गरीब छात्रों को सफलता दिलाने में मदद के लिए बने सुपर 30 की भारी सफलता के बाद इसके संस्थापक आनंद कुमार अब इस साल से इसका विस्तार करने जा रहे हैं और इसमें ऐसे छात्रों को शामिल करने जा रहे हैं जिन्होंने दसवीं की परीक्षा पास की है. सुपर 30 के मौजूदा कार्यक्रम में अब तक 12वीं पास छात्रों को लिया जाता था.

 

इस बात कि जानकारी देते हुए बिहार के प्रख्यात गणितज्ञ आनंद कुमार ने यह बताया है कि इसी वर्ष 2016 से ही वे अपने संस्थान में 10वीं पास विद्यार्थियों को शामिल करने जा रहे हैं. गौरतलब हो की पिछले सत्र तक ‘सुपर 30’में 12वीं पास विद्यार्थियों का एंट्रेंस के माध्यम से दाखिला लिया गया है.

20 छात्रों को शामिल करने की योजना

सुपर 30 के लिए अल्प एवं दीर्घकालिक योजनाओं के बारे में बताते हुए कुमार ने बताया कि 12वीं पास छात्रों को पढ़ाने के मौजूदा कार्यक्रम के अलावा हमलोग दो साल के इस नये कार्यक्रम में करीब 10-20 छात्रों को पढ़ाने की योजना बना रहे है. हमलोग इस साल से इस कार्यक्रम की शुरुआत करेंगे और अगले साल से इसे और व्यापक फलक पर किया जायेगा. नये कार्यक्रम में कितने छात्रों को शामिल किया जायेगा. इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि अंतिम रूप दिया जा रहा है, लेकिन इसमें 10, 15 या 20 छात्रों को शामिल किया जा सकता है

 

आनंद का यह भी कहना है कि 12वीं पास छात्रों के लिए प्रोग्राम पहले के ही तरह से सुचारू रहेगा. जबकि सिर्फ 10वीं पास छात्रों का नए प्रोग्राम के तहत ‘सुपर 30’ में दाखिला लिया जाएगा. इसके अलावा उन्होंने कई और योजनाओं को अपने संस्थान में लागु करने की बात कही है जिनमें संस्थान की वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन लेक्चर भी दिया जाएगा, जिससे कई विद्यार्थियों को घर बैठे ही इसका लाभ मिल पाएगा. जबकि संस्थान के लेक्चर्स की ऑनलाइन उपलब्धता से परीक्षार्थियों का बड़ा वर्ग भी लाभान्वित हो सकेगा।

 एक स्कूल भी खोलना चाहते है आनंद कुमार

प्रतिष्ठित भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों में दाखिले के लिए आयोजित संयुक्त प्रवेश परीक्षा में इस साल 30 छात्रों में से 28 ने सफलता हासिल की, जो 15 साल पहले इसकी स्थापना के बाद इसकी नई उपलब्धि है. कुमार ने कहा कि उनकी सबसे बड़ी आकांक्षा गरीब बच्चों के लिए आत्मनिर्भर मॉडल पर आधारित एक स्कूल की स्थापना करना है. कुमार ने बताया कि सुपर 30 की वेबसाइट पर डाउनलोड किये जा सकने योग्य लेक्चर एक रुपये में उपलब्ध कराने की भी योजना है.


 

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: