इस दिवाली अपने प्रधानमंत्री जी ने की है एक शानदार पहल, जान आपका भी सीना हो जायेगा 56 इंच का

44853750-cms

हर साल , हर विशेष पर्व त्यौहार को बड़े ही खुशनुमा कर देते हैं माननीय प्रधानमंत्री मोदी जी ! कुछ न कुछ ऐसा कर गुजरते ही की देश की तमाम जनता का दिल जीत लेते हैं और वहीँ राजनीतिक प्रतिद्वंदी को भी स्तब्ध कर देते हैं !

2014 – पहला साल दिवाली का !

सबसे पहले सुबह सुबह सियाचिन गए १२ हजार फीट उपर भारतीय सेना के कैंप में ! वहां  हमारे जवानों का हौशला बढाया , शुभकामनाये  दी सुर १२५ करोड़ भारतवासी के तरफ से हार्दिक धन्यवाद और प्यार दिया ! उन्होंने कहा की देश हर्षो  उल्लास के साथ दिवाली मना रहा है तो वो आपकी वजह से !

उन्होंने कहा  “I have specially come on the occasion of Diwali to be with you. I am aware how it feels like to spend Diwali with your family. The happiness is different, but you are so involved in the devotion of your motherland that family is spending Diwali somewhere else and you are somewhere else guarding the motherland,”

साथ में ऐसे अपनी भावनाओ को शब्द कहा जिससे हमारे जवानों का मनोवल बढ़ा  “My coming to this place will not fill the void of your family members, but as a representative of 125 crore people… after being with you I feel proud and satisfied,” 

उसी २०१४  दोस्तों हमारे जम्मू कश्मीर के  भाई बहन भीषण बाढ़ के प्राकृतिक हादसा से  रु-बरु हुए थे जो की की 100 साल में सबसे बुरी  तरह प्रभवित था ! जिसमे लगभग 300 जाने गयी थी  और 15 लाख  लोग प्रभावित  हुए थे ! उस दिवाली प्रधानमंत्री  ने इस दुःख की अवधि में , दिवाली शाम  में जम्मू कश्मीर  में मनाई  थी ! साथ में 570 करोड़  रुपए पुनर  आवास के  लिए घोषित  भी किया था !

2015 – दूसरा  साल दिवाली का !

हाँ 2015 की दिवाली भी फिर से भारतीय सेना के साथ ! इस बार वो तोहफा  भी साथ ले गए थे सालो से अटकी मांग थी , वो सुलझा  दिया  गया ऐसा समाचार  ले के ! वो था OROP (One-Rank-One-Pension). इस साल वो पश्चिमी बॉर्डर पे गए जो 1965 भारत -पाकिस्तन  की लड़ाई  से जुडी सारे जगहों का मुयाना  किया , शहीदों, उनके योगदानो  को याद  किया ! 2015 , 50वा साल  था था , 1965 के जंग  का !  उन्होंने सीमा  के जवानों के साथ बातचीत कर के अपना  अनुभव और भावनाए Tweet के जरिये व्यक्त  की !

“Today was a very satisfying day. Visited some important places along our western border that saw action in 1965,”

“It was great spending time with our troops & interacting with them. Their courage & patriotism inspires,”

“My visit to these places comes when we are marking the 50th anniversary of the 1965 war. We salute everyone who fought in that war,”

“The places I visited were the places where our troops laid down their lives while defending our Motherland. We are proud of our armed forces,”

2016 – तीसरा साल दिवाली का 

अभी 2016 की दिवाली आने मे 7 दिन बांकी है और इधर हमारे प्रधानमंत्री जी ने शुरुआत कर दी , एक विशेष तरीके का आवाहन  किया  है देश से ! लगातार तीसरे साल भी ये हमारी भारतीय  सेना  से जुडा हुआ कदम ! फिर से दिल जीत लेने वाला कार्य , ऐसा  कार्य  जिससे हर भारतवासी खुद  को जोड़ पायेगा , हर भारतीय सैनिक फुले नहीं समाएगा !  इज्जत, हौसला , अपनापन , प्यार , मोहब्बत , दिल , जान , वतन  हम,आप, समाज , देश , साथ , दिवाली , मिठाई , भावना , सागर , जोश , उन्माद , बरसात, दिवाली , दीपावली हाँ  दीपावली !

तो ये शुरुआत है सन्देश भेजने का अपने देश के जवानों के नाम #Sandesh2Soldier नाम से ये शुरुआत है माननीय प्रधानमंत्री जी का , जिससे इन्होने एक लघु विडियो के जरिये भावनाओ  को व्यक्त  किया है ! जो की दिल को छू लेने वाला ही नहीं मनमोहक और सराहनीय भी  है !

आप अपना सन्देश विचार ट्विटर , फेसबुक पे #Sandesh2Soldier के साथ व्यक्त कर सकते हैं ! आप चाहे तो पोस्टकार्ड द्वारा भी भेज सकते हैं ! इस पते पे :-

आल इंडिया रेडियो, आकाशवाणी भवन , संसद मार्ग, नई दिल्ली – पिन 110001

#जयहिन्द #JayHind

Facebook Comments

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

top