16 मजदूर को ट्रेन ने कुचला, अब बिहार के एक मजदूर को हरियाणा में कार ने रौंदकर मार डाला

कोरोना के कारण लॉकडाउन के कारण सबसे ज्यादा देहारी मजदूर को परेसानी है| उनकी रोजी-रोटी तो ख़त्म हो ही गयी है, उसके साथ वे पराये राज्य में फस गएँ हैं| सरकार ने स्पेशल ट्रेन से उनको घर वापस लाने का व्यवस्था तो किया है मगर ट्रेनों की संख्या बहुत कम है और मजदूर काफी ज्यादा| लोग पैदल और साइकिल से ही घर के लिए निकल पड़ें हैं| पिछले दिनों मध्यप्रदेश के उन्ही 16 मजदूरों को ट्रेन ने कुचल दिया तो आज खबर आ रही है कि हरियाणा के अम्बाला में एक बिहारी प्रवासी मजदूर को क हाईवे पर एक टोयोटा इनोवा ने कुचल कर मार दिया|

मजदूर बिहार के पुर्णिया जिला का बताया जा रहा है| पुलिस ने कहा कि घटना तब हुई जब चार प्रवासी मजदूर अंबाला-साहा राष्ट्रीय राजमार्ग 444A पर चल रहे थे, जो अंबाला को यमुनानगर और आगे उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले से जोड़ता है। अंबाला कैंट के छोटा खुड्डा के पास एक तेज रफ्तार कार ने सड़क पर चल रहे दो मजदूरों (Migrant labor) को रौंद दिया। इस हादसे में एक मजदूर की मौके पर ही दर्दनाक मौत (Painful Death) हो गई और एक को गंभीर चोट आई है| घायल व्यक्ति का ईलाज अस्पताल में चल रहा है| शव को पोस्मार्टम के लिए भेज दिया गया है और पुलिस ने जांच शुरू कर दी है|

मौके पर मौजूद मृतक के साथी विनोद मंडल ने कहा, “हममें से चार लोग बिहार के एक ही गांव के हैं। हम सुबह 7 बजे के आसपास काम की तलाश में खुदा खुर्द गांव जा रहे थे जब अंबाला छावनी की तरफ से आ रहे एक तेज रफ्तार वाहन ने अशोक कुमार और पिंकू को पीछे से टक्कर मार दी, जिससे अशोक की मौके पर ही मौत हो गई। एक राहगीर पिंकू को सिविल अस्पताल ले गया, जहां से उसे पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च (PGIMER), चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया। टोयोटा इनोवा का ड्राइवर दुर्घटना के बाद भाग गया। ”

Source: Hindustan Times

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: