तबाही: बिहार में बाढ़ की स्थिति और बिगड़ी, सेना ने संभाली कमान

बिहार में पिछले दिनों से हो रही लगातार बारिश और बाढ ने लोगों का जीना मुश्किल कर रखा है। राज्य में लाखों लोगों पर अचानक आसमान से संकट मंडरा गया है। पिछले 24 घंटों में यहां ऐसी बारिश हुई की जैसे आसमान फट गया। बिहार के कई जिलों में गांव के गांव बाढ़ में डूब गए। मौसम विभाग ने भारी बारिश का अनुमान लगाया है। अगले दो दिन भी बिहार पर भारी है। बाढ़ की स्थिति का जायजा लेने के लिए आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हवाई दौरा करेंगे।

नेपाल में लगातार हो रही बारिश की वजह से बिहार में बाढ़ की स्थिति भयावह बनी हुई है. सीमांचल के इलाक़े सबसे अधिक प्रभावित हैं. बाढ़ को लेकर रविवार को राज्य में हुई आपात बैठक के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने फोन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री राजनाथ सिंह से फोन पर बात की. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रभावित लोगों की मदद के लिए सेना और वायुसेना से मदद मांगी है. साथ ही NDRF की 10 अतिरिक्त कंपनी की भी मांग की गई. राज्य का किशनगंज, अररिया, पूर्णिया, कटिहार, पश्चिम चंपारण, सहरसा और सुपौल जिला सबसे अधिक प्रभावित है. प्रभावित ज़िलों में कई गावों में पानी घुसने से जन जीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त हो गया है मकान और गाड़ियां पानी में डूब गई है. कई प्रखंडों का जिला मुख्यालय से संपर्क टूट गया है. बाढ़ की वजह से रेल यातायात भी प्रभावित हुआ है. कई गाड़ियों को रद्द कर दिया गया है जबकि कई को डायवर्ट किया गया है.

बाढ़ से पूर्वोत्तर सीमान्त रेलवे से देश का रेल सम्पर्क भंग हो गया है.

कटिहार रेलवे मण्डल में बाढ़ को लेकर हाईअलर्ट जारी कर दिया गया है. रेलवे कंट्रोल में जहां अफरा-तफरी मची है वहीं अधिकारियों ने इसको लेकर आपात बैठक बुलाई है, बाढ़ और भारी बरसात की वजह से कटिहार रेलमंडल में भी रेल परिचालन पर इसका प्रतिकुल असर देखा जा रहा है.

ऐहतियात के तौर पर कटिहार रेलमंडल ने 37 में से 17 ट्रेनों को रद्द कर दिया है.

रविवार को डिब्रूगढ़-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस (12423), डिब्रूगढ़-चेन्नई एक्सप्रेस (15930), डिब्रूगढ़-दिल्ली ब्रह्मपुत्र मेल (14055) और गुवाहाटी-पुरी एक्सप्रेस (15640) सहित कुल 20 मेल, एक्सप्रेस और अन्य पैसेंजर ट्रेनें रद्द कर दी गईं. रद्द होने वाली अन्य रेलगाड़ियों में गुवाहाटी-सियालदाह कंचनजंगा एक्सप्रेस (15658), न्यू जलपाईगुड़ी सियालदाह दार्जिलिंग मेल (12344), अलीपुरद्वार जंक्शन-दिल्ली सिक्किम महानंदा एक्सप्रेस (ए15483), न्यू कूचबिहार-सियालदाह उत्तर बंग एक्सप्रेस (13148), गुवाहाटी-हावड़ा सरायघाट एक्सप्रेस (12346), अलीपुरद्वार जंक्शन-सियालदाह कंचन कन्या एक्सप्रेस (13150) और न्यू अलीपुरद्वार-सियालदाह तीस्ता टोरसा एक्सप्रेस (13142) शामिल हैं.

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: