बिहार में बाढ़ पीड़ितों इलाकों का पीएम मोदी ने किया हवाई सर्वेक्षण, 500 करोड़ रुपए मदद के लिए दिए

बाढ़ से तो पूरे उत्तर बिहार में बाढ़ के कहर से लोगों का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो चुका है। लेकिन सबसे ज्यादा खौफनाक मंजर बिहार के कोसी क्षेत्र में देखने को मिला है जहां लोग किस तरह अपना जीवन काट रहे हैं इसका अंदाजा लगाना बड़ा कठिन है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी कई बार हवाई यात्रा के दौरान सीमांचल क्षेत्रों का मुआयना किया है। इसी सीमांचल क्षेत्र का मुआयना करने के लिए आज शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिहार के पूर्णिया पहुंच चुके हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिल्ली से सीधे पूर्णिया स्थित वायु सेना एयरपोर्ट पर पहुंचे जहां से प्रधानमंत्री की अगुवाई में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ-साथ भाजपा के कई वरिष्ठ नेता और मंत्री क्षेत्र का हेलीकॉप्टर से दौरा करने और बाढ़ पीड़ित लोगों का जायजा लेने की तैयारी कर रहे हैं।


पीएम मोदी ने बिहार को बाढ़ से निपटने के लिए 500 करोड़ रूपये के तत्काल राहत का एलान किया है। क्षति के आंकलन के बाद राहत की राशि बढ़ाई जाएगी।

इससे पहले समीक्षा बैठक में पीएम ने बाढ़ की क्षति की पूरी रिपोर्ट ली। इसके तुरंत बाद पीएम वापस दिल्ली के लिए रवाना हो गए। एक आंकलन के मुताबिक बिहार में बाढ़ की क्षति पूर्ति के लिए बिहार को 10, 000 करोड़ की जरूरत है।

इस मुताबिक सीएम की घोषणा ऊंट के मुंह में जीरा के सामान मानी जा रही है। हालांकि अभी फाइनल केन्द्र सरकार बिहार को कितना देगी इसका एलान नहीं किया गया है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को बिहार में सीमांचल के बाढ़ प्रभावित जिलों का जायजा लेने और बाढ़ पीड़ितों की दुख-दर्द जानने के लिए दिल्ली से पूर्णिया पहुंचे । लगभग 50 मिनट तक बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करने के बाद प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार वापस लौटे।

इसके बाद पीएम मोदी पूर्णिया में एयरफोर्स स्टेशन पर ही बाढ़ की उच्चस्तरीय समीक्षा करने निकले। इस समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, आपदा मंत्री दिनेश चंद्र यादव सहित बिहार सरकार के तमाम अधिकारी मौजूद रहे।


इससे पूर्व पीएम मोदी ने सीएम नीतीश और डिप्टी सीएम सुशील मोदी संग पूर्णिया में बाढ़ ग्रस्त इलाकों को हवाई सर्वेक्षण किया। सुबह आठ बजे पीएम मोदी दिल्ली से पूर्णिया के लिए रवाना हुए और नौ बजकर पचास मिनट पर वे पूर्णिया के चूनापुर स्थित वायुसेना एयरबेस पहुंचे थे। जहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुआई की।

इसके बाद पीएम मोदी हेलीकॉप्टर से बाढ़ प्रभावित पूर्णिया, अररिया, कटिहार और किशनगंज इलाके का हवाई सर्वेक्षण करने निकले। सर्वेक्षण के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी भी मौजूद थे।

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: