बिहार की मीरा कुमार बनी यूपीए की राष्ट्रपति उम्मीदवार

17 जुलाई 2017 को होने वाले राष्‍ट्रपति चुनाव के लिए विपक्ष ने पूर्व लोकसभा अध्‍यक्ष मीरा कुमार को अपना साझा उम्‍मीदवार बनाया है. इस तरह विपक्ष ने एनडीए के उम्‍मीदवार रामनाथ कोविंद के सामने महिला एवं दलित उम्‍मीदवार को खड़ा कर अपनी चुनौती पेश की है. विपक्ष बैठक में तीन नाम सामने आए लेकिन मीरा कुमार के नाम पर सभी दल सहमत हो गए. सोनिया गांधी ने मीरा कुमार के नाम का प्रस्‍ताव रखा जिसपर सभी दल सहमत हो गए. 72 वर्षीय मीरा कुमार ने बुधवार की देर शाम सोनिया गांधी से मुलाकात की थी. मुख्‍य रूप से कांग्रेस और वाम दल चाहते थे कि राष्‍ट्रपति चुनाव एकतरफा ना हो इसलिए वो एक ऐसा उम्‍मीदवार पेश करना चाहते थे जिसे सभी विपक्षी पार्टियां अपना समर्थन दें. 16 राजनीतिक दलों ने संसद भवन में हुई विपक्ष की बैठक में हिस्‍सा लिया जहां मीरा कुमार के नाम पर मुहर लगाई गई.

 

मीरा कुमार कांग्रेस की वरिष्ठ नेता हैं और पार्टी का बड़ा दलित चेहरा हैं। पूर्व उप प्रधानमंत्री बाबू जगजीवन राम की बेटी मीरा कुमार पिछली लोकसभा की अध्यक्ष रह चुकी हैं। उनके उम्मीदवार बनाए जाने की चर्चा पहले से ही थी। राष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष की तरफ से उम्मीदवार के लिए मीरा कुमार के अलावा सुशील कुमार शिंदे, गोपाल कृष्ण गांधी और प्रकाश आंबेडकर के नाम की चर्चाएं थी। विपक्ष की मीटिंग से पहले सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा था कि लेफ्ट गोपाल कृष्ण गांधी को उम्मीदवार के तौर पर देखना चाहता है।

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: