गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में स्वीकार हुआ बिहार के बेटे का आवेदन

गुंजन कुमार। राजधानी पटना के शिक्षक किसलय शर्मा के आवेदन को गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड द्वारा स्वीकार किया गया है। इस प्रक्रिया में भाग लेने इतना आसान नहीं था, लेकिन इस बिहारी ने हार नहीं मानी और दुनिया को दिखा दिया की बिहारी क्या क्या कर सकता है। बतादें कि किसलय का चयन “सबसे लंबे मैराथन लेक्चर” के श्रेणी में हुआ है। हर दिन गिनीज़ बुक में 10000 आवेदन दर्ज होते है। चयन के लिए आवेदक को एक ऑनलाइन लिखित चयन प्रक्रिया और इंटरव्यू देना पड़ता है।

किसलय ने पटना साइंस कॉलेज से गणित में मास्टर्स की पढ़ाई की है और इससे पहले भी वो बिहार का नाम रौशन कर चुके है। 2015 में उनका चयन अमेरिका के न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी में मैथमेटिक्स रिसर्च प्रोग्राम में हुआ था। किसलय के पिता डॉ विद्या भूषण शर्मा भौतिकी के शिक्षक है। फिलहाल किसलय अभी जाग्रति कोचिंग संस्थान में छात्रों का अपना समय देते है।

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: