खबरें बिहार की खेल जगत राष्ट्रीय खबर

पटना पाइरेट्स ने प्रो कबड्डी लीग सीजन-4 का खिताब जीत के इतिहास रच दिया, देखिए क्या-क्या मिला टीम को

हैदराबाद के गाची बावली स्टेडियम में हुए प्रो-कबड्डी लीग के फाईनल मुकाबले में पटना पाइरेट्स ने जयपुर पिंक पैंथर्स को एकतरफा अंदाज में 37-29 से हरा दिया। यह पटना पाइरेट्स का लगातार दुसरी जीत है।  इससे पिछले वाले लीग में भी पटना पाइरेट्स ने सबको धूल चटाया था।

 

कैसा रहा फाइनल मुकाबला

– खिताबी मुकाबले में पटना और जयपुर के बीच जिस कड़े संघर्ष की उम्मीद की जा रही थी।
– मैच में शुरुआती टक्कर मिलने के बाद पटना की टीम पूरे समय के दौरान मैच पर हावी रही।
– जयपुर के कप्तान जसवीर सिंह ने पटना को पटकनी देने की पूरी कोशिश की लेकिन मजबूत डिफेंस ने उन्हें नाकाम कर दिया।
– जसवीर ने ही पटना को मैच का आखिरी अंक भी दिया।
– पहले हाफ में पांच मिनट बाकी रहते पटना ने ऑलआउट हासिल कर 16-11 की मजबूत बढ़त बना ली।
– आधे समय तक पटना के पास 19-16 की बढ़त थी। दूसरे हाफ में पटना की बढ़त 28-22 तक पहुंच गई।
– पटना ने दूसरी बार जयपुर को ऑलआउट किया और अपनी बढ़त को 31-23 पहुंचा दिया।
– इसके बाद तो जयपुर के प्लेयर्स ने जैसे हथियार ही डाल दिए।
– पटना ने अपनी पकड़ मजबूत रखते हुए खिताब एक बार फिर अपने नाम कर लिया।

विनर टीम को क्या मिला…

– पटना की टीम ने ये मुकाबला जीतकर अपना खिताब बरकरार रखा। पटना ने इसी साल जनवरी में हुए तीसरे सीजन का खिताब भी जीता था।
– अब चौथे सीजन का खिताब जीतकर पटना लगातार दो टूर्नामेंट जीतने वाली पहली टीम बन गई है।
– कबड्डी लीग की विनर टीम पटना पाइरेट्स को एक करोड़ रुपए की प्राइज मनी मिली।
– वहीं फाइनल हारने वाली जयपुर पिंक पैंथर्स के हिस्से में 50 लाख रुपए आए।
– इससे पहले पुणेरी पल्टंस ने तेलुगु टाइटंस को 40-35 से हराकर तीसरा स्थान हासिल किया।
– तीसरे स्थान पर रही पुणेरी को 30 लाख और तेलुगु टाइटंस को 20 लाख रुपए मिले।

 

साथ ही स्टार स्पोर्ट्स प्रो कबड्डी लीग सीजन-4 का ‘मोस्ट वेल्यूबल प्लेअर’ पटना पाइरेट्स के प्रदीप नरवाल को चुना गया है.
20 साल के नरवाल को पुरस्कार के तौर पर 10 लाख रुपये मिले. सीजन-4 का सर्वश्रेष्ठ रेडर तेलुगू टाइटंस के कप्तान राहुल चौधरी को चुना गया जबकि पाइरेट्स के ईरानी खिलाड़ी फाजेल अतराचेली इस टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ डिफेंडर चुने गए.

Facebook Comments
Share This Unique Story Of Bihar with Your Friends

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.