Instagram Slider

  •      25    hellip
    3 weeks ago by aapnabihar केबीसी के इस सीजन में 25 लाख जीत चूकी है बिहार की ये बेटी।  #Aapnabihar   #Bihar   #KBC   #Nalanda   #Nawada 
  •          hellip
    3 weeks ago by aapnabihar बिहार कैडर के सबसे प्रसिद्ध आईपीएस अफसर एवं देश के सबसे इमानदार अफसरों में एक श्री शिवदीप लांडे को जन्मदिन की बधाई।  #Aapnabihar   #bihar   #ShivdeepLande   #IPS 
  •          hellip
    2 weeks ago by aapnabihar केबीसी के सेट पर अमिताभ बच्चन ने कहा ' बिहार के इस लाल (आनंद कुमार) पर पूरे देश को गर्व है'  #Aapnabihar   #bihar   #AnandKumar   #KBC   #AmitabhBachchan 
  • 6 days ago by aapnabihar जितिया स्पेशल
  •          hellip
    3 weeks ago by aapnabihar पीएम मोदी पहुँचे बिहार, बाढ़ पीड़ित इलाकों का किया हवाई सर्वेक्षण।
  • 4 hours ago by aapnabihar पटना - बख्तियारपुर
  •    Ashokdham Luckheyshray Bihar Aapnabihar
    3 days ago by aapnabihar अशोकधाम मंदिर, लखीसराय  #Ashokdham   #Luckheyshray   #Bihar   #Aapnabihar 
  •          hellip
    2 weeks ago by aapnabihar गुरु अगर चाहे तो साधारण इंसान को भी महान बना दे। बिहार के ही आचार्य चाणक्य थे जिन्होंने एक साधारण से बालक चंद्रगुप्त मौर्य को शिक्षा दे हिन्दुस्तान का सबसे बड़ा सम्राट बना दिया था। आज भी बिहार की धरती पर ऐसे महान शिक्षकों की कमी नहीं है जो लगातार सैकड़ों बच्चों के भविष्य सँवारने में लगे हुए हैं ।  #Aapnabihar   #Bihar   #TeachersDay 
  •    Mahabodhi Bodhgaya Gaya BiharTourism bihar Aapnabihar
    2 weeks ago by aapnabihar महाबोधि मंदिर, बोधगया  #Mahabodhi   #Bodhgaya   #Gaya   #BiharTourism   #bihar   #Aapnabihar 
  • 2 days ago by aapnabihar

Latest Stories

Featured Articles
BQhdufh
aapna bihar is one of the best & trusted portal of bihar.good luck.

Featured Articles
BQhdufh
aapna bihar is one of the best & trusted portal of bihar.good luck.

देखिये! मशहूर कॉमेडियन कपिल शर्मा के विडियो का बिहारी कनेक्शन

हिंदी दिवस नहीं आया अभी| हिंदी पखवाड़ा भी दूर है| फिर भी सोशल मीडिया के मार्किट में हिंदी का तवा गरम है| इस बार किसी नेता के अमेरिकी सदन में भाषण दे कर तालियाँ बटोरना मुद्दा नहीं है| न ही किसी हिंदी सिनेमा को ऑस्कर मिला है| न ही हिंदी पुस्तक को पछाड़ कर कोई इंग्लिश पुस्तक ने बाजी ही मारी है| ना ही किसी स्वयंसेवी संस्था ने कोई मुहीम ही चलाई है| तो फिर बात क्या है? चल क्या रहा है? हिंदी पर एक बार पुनः बहस , क्यों?

 

दो-तीन दिन पहले कपिल शर्मा का नया विडियो लॉन्च हुआ है| एक मोबाइल कंपनी का एड है जिसमें हिंदी बोल के अंग्रेजी वाले को जमकर लथाड़ा गया है| कपिल ये काम पहले भी करते आये हैं| इस बार अंग्रेजी के सामने हिंदी को कमतर समझे जाने को लोग सीरियसली ले रहे हैं| इससे पहले चेतन भगत ने भी हाफ गर्लफ्रेंड में इंग्लिश न बोल सकने वाले बिहारी युवक को मजाक का मुख्य पात्र बताया था| एक तरह से इंग्लिश को विकास के लिए अत्यंत-आवश्यक करार देते हुए उन्होंने युवक के इंग्लिश सुधारने की कहानी कही थी| लेकिन इस बार जनता इंग्लिश के खिलाफ है, हिंदी और अपनी बोलियों के पक्ष में बोल रही है|

ये देखिये विडियो –

https://youtu.be/_kvbTv-SLlY

अब बात ये कि हम क्यों आ खड़े हुए हैं इस चर्चा में? एक और विडियो दिखाते हैं-

 

जून के पहले सप्ताह में शूट हुआ ये विडियो आपको आश्चर्यचकित करेगा| इसमें जो सामने नजर आ रहे हैं, हालिया कपिल जैसी भूमिका में, वो हैं केशव झा जी| बहुत पहले इस विषय को ध्यान में रखते हुए इन्होंने तैयारी की थी| फेसबुक पेज पर हम पहले भी शेयर कर चुके हैं(20 जून को- https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=1051374148289157&id=314418598651386), आज फिर करते हैं|

यहाँ विषय व्यापक है, व्यक्तिगत अनुभव के साथ भावनाएं कूट-कूट कर भरी हैं केशव जी ने| इन दोनों की टैग-लाइन एक ही है|

इन दोनों वीडियोज में अंतर सिर्फ इतना है कि एक कॉमेडियन होते हुए भी कपिल ने बात को गंभीरता से रखा है जबकि केशव जी ने थोड़े मजाकिया लहजे में बात स्पष्ट तौर से समझाने की कोशिश की है| हालाँकि दोनों ही परिस्थितियों में मुद्दे की संजीदगी से कोई समझौता नहीं किया गया है|

 

मकसद ये नहीं कि इन दोनों का तुलनात्मक अध्ययन किया जाये| हमारी टीम को गर्व इस बात का है कि हममें से एक-एक जन समाजिक विषयों को लेकर इतने सजग हैं कि समाज से जुड़े हर तबके की बात आप तक सफलता से भिन्न-भिन्न माध्यमों से पहुँचाने की कोशिश कर रहे हैं| गर्व इस बात का भी है कि केशव झा जी हमारी टीम के अटूट अंग हैं जिनकी कलात्मकता का नमूना आप हमारे वीडियोज में देखते आ रहे हैं| बिहार से जुड़ी हर समस्या, हर मुद्दा आप तक लाने को तत्पर और बाध्य है ये टीम|

 

हम बिहार से हैं, और जानते हैं किसी हिन्दीभाषी का इंग्लिश बोलने वालों के बीच क्या हश्र होता है| कैसे उसकी सारी मेहनत उसकी बोली और लहजे के सामने फीकी पड़ जाती है| हमने देखा है छोटे-शहर वालों का बड़े-शहरों में अपनी काबिलियत के दम पर जाना, और इंग्लिश की लज्ज़त फीकी होने की वजह से वापस आ जाना| हम समझ जाते हैं कोई सरल-सीधा गाँव का रहनेवाला जब इंग्लिश बोलने की कोशिश कर रहा हो तो कैसे उसकी खिल्ली उड़ाई जाती है| अनपढ़-गंवार तक कह दिया जाता है|
भारत ही क्यों पाकिस्तानी क्रिकेटर्स को भी कई बार केंद्र में रखा जाता है, ट्रॉल्स निकलते हैं उनपर, उनकी कमजोर इंग्लिश को लेकर|

 

भाषाएँ अभिव्यक्ति का एक माध्यम हैं| हिंदी-इंग्लिश ही नहीं, हर भाषा-हर बोली सम्मान की अधिकारी है| भाषाओँ में टैलेंट और भाव नहीं बांटे जा सकते| सामने वाला किसी भाषा को नहीं समझ पा रहा तो उसकी मदद करें, बजाये उसके आत्मविश्वास का हनन ही कर देने के| उसको सिखने का मौका दें बजाये उससे हार स्वीकार करवाने के| उसके प्रयासों की कद्र करें बजाय उसके भाषा ज्ञान और लहजे की वजह से उसकी काबिलियत को ‘फेल’ का प्रमाणपत्र थमा देने के| उसकी सरलता को बरकरार रखें बजाये उसके आत्मसम्मान को ठेस पहुंचाने के|
टैलेंट को भाषाओँ की लकीर में बाँधने का प्रयास न करें| इनसे बाहर निकलना आगे बढ़ने के लिए अत्यंत आवश्यक है| यकीन मानिये आप दुनिया की सारी भाषाओँ में पारंगत कभी नहीं हो सकते| आपको इन भाषायों का सम्मान करना ही होगा| केशव झा जी भी यही कहना चाहते हैं, कपिल शर्मा भी यही कहना चाहते हैं और आपन बिहार की टीम के साथ-साथ पूरा बिहार भी यही कहना चाहता है|

सिर्फ इसलिए कि हम इंग्लिश एसेंट में फीट नहीं बैठते- #मत_बदनाम_करो_बिहार_को|

Facebook Comments

Search Article

Leave a Comment

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: