राजधानी पटना के सेंट जेवियर्स हाई स्कूल के पूर्व छात्र को वर्ल्ड बैंक में मिली बड़ी जिम्मेदारी

आभस झा को दक्षिण एशिया में जलवायु परिवर्तन और आपदा प्रबंधन के महत्वपूर्ण पद पर नियुक्त किया है

वर्ल्ड बैंक (World Bank) से बिहार के साथ पुरे हिंदुस्तान के लिए एक गौरव करने लायक खबर आई है| बिहार से संबंध रखने वाले भारतीय अर्थशास्त्री अभास झा (Economist Abhash Jha) को वर्ल्ड बैंक ने एक बड़ी जिम्मेदारी देते हुए उन्हें दक्षिण एशिया में जलवायु परिवर्तन और आपदा प्रबंधन के महत्वपूर्ण पद पर नियुक्त किया है| वर्ल्ड बैंक उनकी क्षमता का उपयोग दक्षिण एशिया में जलवायु परिवर्तन और आपदा जोखिम प्रबंधन के लिए करेगा|

खास बात यह है कि भारतीय मूल के आभास को यह जिम्मेदारी उस समय दिया गया है जब भारत के पश्चिम बंगाल और ओड़िसा के अलवा पड़ोसी देश बंगलादेश में अम्फान चक्रवात से काफी नुकसान हुआ है|

ज्ञात हो कि वर्तमान में IMF (International Monterey Fund) की चीफ इकोनॉमिस्ट भारतीय मूल की गीता गोपीनाथ है| इस पद तक पहुंचने वाली वे पहली महिला हैं| इसके अलवा भारत के स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने भी हाल ही में WHO बोर्ड के चेयरमैन पद की जिम्मेदारी संभाला है|

कौन हैं आभास झा?

आभास भारतीय मूल के जाने-माने अर्थशास्त्री हैं| उनकी स्कूली शिक्षा बिहार के पटना स्थित सेंट जेवियर्स हाई स्कूल में हुई है| इससे वर्यल्हड बैंक में यह जिम्मेदारी मिलने से पहले तक वे पूर्वी एशिया और प्रशांत क्षेत्र में शहरी विकास और आपदा जोखिम प्रबंधन के लिए बतौर प्रैक्टिस मैनेजर काम कर रहे थे|


यह भी पढ़ें: प्रतिष्ठित विश्व बैंक ( Wold Bank) ने भी इस बिहारी को आमंत्रित किया था 


उन्होंने  2001 में झा ने वर्ल्ड बैंक ज्वाइन किया था| इस दौरान वे लैटिन अमेरिका, कैरिबियन, यूरोप, मध्य एशिया, पूर्वी एशिया और प्रशांत क्षेत्रों में काम किया है| उनके अधिकार क्षेत्र में भारत, बांग्लादेश, पाकिस्तान, अफगानिस्तान, श्रीलंका, नेपाल और मालदीव शामिल हैं| वे इन देशों में मौजूद समस्याओं का सबसे अच्छा समाधान देने के लिए उच्च व योग्य पेशेवरों की एक टीम का पोषण, नेतृत्व, प्रेरणा और उनकी तैनाती का काम करेंगे|

 

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: