औरंगाबाद के देव मंदिर का सांसद ने किया जीर्णोद्धार, गंगाजल में अर्घ्य देंगे छठव्रती

औरंगाबाद में स्थिति स्थान देव, सूर्य उपासना के प्रमुख केंद्र के रूप में प्रसिद्ध है। देव में हर साल अन्य स्थानों से व्रती महापर्व छठ मनाने जाया करते हैं। छठपर्व के आगमन पर वहां के सांसद ने छठ व्रतियों का खास ख़्याल रखते हुए उस प्राचीन देव मंदिर प्रांगण का जीर्णोद्धार किया है।

जी हाँ! मंदिर प्रांगण में स्थित तालाब की न सिर्फ सफाई की गई है बल्कि उसमें से दस फ़ीट गहराई तक की मिट्टी निकाल कर उसमें बालू भरा गया है। इसके पश्चात बक्सर ने दो टैंकर गंगाजल लाकर उस तालाब में डाला गया है। इसके अलावा मंदिर प्रांगण की साफ-सफाई, रंग-रोगन करके और टाइल्स से भी सजाया गया है।

इस प्रक्रिया से औरंगाबाद के देव मंदिर का दृश्य अति सुंदर हो चला है। औरंगाबाद सांसद सुशील कुमार सिंह अपने भाई सुनील सिंह और पुरे परिवार और कार्यकर्ताओं के साथ देव पहुंचे जहाँ से देव के विद्वान ब्राह्मण प्रवीन पाठक, राजेश पाठक, नागेन्द्र पाठक, पप्पू पाठक सहित अन्य के साथ सूर्य कुंड तालाब पहुंचे और वहां कुष्ट निवाराक सूर्य कुंड तालाब में स्नान किया। जिसके बाद काशी के विद्वान ब्राह्मणों ने उनका विधिवत वैदिक मंत्रो से पुजार्चन करवाया , पुजार्चन के बाद काशी से आये सोमेश्वर पाठक, आशुतोष शुक्ला, अतुल पाण्डेय, पवन मिश्रा, उज्जवल पाण्डेय, रोहित तिवारी सहित अन्य लोगो ने माँ गंगा , सूर्य भगवान् एवं भगवान् देवादिदेव महादेव की आरती करवाई। वहीँ गंगा आरती को देखते हुए देव के स्थानीय लोगो ने हजारो की संख्या में छठ घाट पर घी का दीपक जलाकर दीपोत्सव किया, दीपदान किया।


इस मौके पर देव के सांसद सुशील कुमार सिंह ने कहा कि, “देव  में साफ सफाई पर विशेष  ध्यान  दिया  गया है। छठ व्रतियों को कोई  कष्ट ना हो उसके लिए भी प्रयास  किये  गये हैं। देव  तालाब  को और  सुरक्षित  बनाया गया है। तालाब की सफाई  करने के बाद 32000 लिटर स्वक्ष गंगा जल डाला गया और आज सूर्य  आरती का आयोजन भी किया गया जिसमें दूर-दूर  से लोग शामिल हुये।”

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: