दिल्ली में बिहार के प्रतिभा को किया जायेगा सम्मानित

प्राचीनकाल  से बिहार ज्ञान और शिक्षा का केंद्र रहा है। यहां एक से बढ़कर एक विभूतियों का जन्म हुआ जिन्होंने अपनी विद्वता से पूरी दुनिया को चमत्कृत कर दिया। लेकिन पिछले कुछ सालों से बिहार की शिक्षा व्यवस्था सवालों के घेरे में है। अब हर साल मीडिया की सुर्खियों में टॉपर विवाद छाया रहता है। देश के तमाम समाचार चैनल पूरे देश के टॉपर को छोड़कर बिहार के टॉपर का मान-मर्दन करने में लगे रहते हैं। बहरहाल शिक्षा जगत में हो रहे गोरखधंधे का पर्दाफाश होना ही चाहिए। लेकिन कम-से-कम पेश करने का तरीका ऐसा नहीं होना चाहिए कि उसकी चपेट में प्रतिभावान छात्र भी आ जाएं। नकरात्मक खबरों की तर्ज पर सकरात्मक खबरों को भी तवज्जो देनी चाहिए। लेकिन ऐसा होता नहीं है इसीलिए ‘अपना बिहार’ बिहार से सम्बंधित सकारात्मक खबरों को प्रमुखता से दुनिया के सामने लाता रहा है।

 

इसी मकसद से “वॉयस ऑफ बिहार” 23 जुलाई को दिल्ली के कंस्टीटूशनल क्लब में  बिहार के प्रतिभाओं को सम्मानित करने के लिए बिहार प्रतिभा सम्मान का आयोजन करने जा रहा है जिसमें संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की परीक्षा में सफल हुए अभ्यर्थियों सहित अन्य क्षेत्र में बिहार को गौरवान्वित करने वाले तमाम साथियो को सम्मानित किया जायेगा। इसका उद्देश्य बिहार की शिक्षा व्यवस्था की राष्ट्रीय पटल पर सकरात्मक छवि बनाना है। इसमें रहमानी सुपर30 के संस्थापक अभ्यानंद मुख्य वक्ता होगें तथा नीलोत्पल मृनाल, मैथली ठाकुर, हरिंदर सिंह जैसे लोगों को सम्मानित किया जायेगा ।

 

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: