शरद सागर ने यूरोप के सबसे बड़े बिज़नेस कांफ्रेंस को किया संबोधित

बिहार के सामाजिक उद्यमी शरद सागर यूरोप के सबसे बड़े बिज़नेस कांफ्रेंस में से एक को सम्बोधित करने वाले दुनिया के सबसे युवा उद्यमी बन गए हैं। यूरोप के मॉन्टेनेग्रो में हो रहे स्पार्क बिज़नेस और इंटरनेट कांफ्रेंस में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए शरद ने आज अपना भाषण दुनिया भर से सम्मलित हुए व्यापार जगत के दिग्गज, उद्योगपति, राजनेता, स्टार्टअप सीईओ, एवं प्रोफेसरों के सामने दिया । साथ ही इसी वैश्विक सम्मलेन में शरद सागर ने Aapna Bihar का डेक्सटेरिटी ग्लोबल के प्रतिष्ठित प्लेटफार्म Dexconnect के अधिकारिक मिडिया पार्टनर बनने का एलान किया। 

यूरोप का एक ऐतिहासिक सम्मेलन
इसी के साथ बिहार के शरद सागर ने प्रतिष्ठित हार्वर्ड प्रोफेसरों, यूनाइटेड नेशंस ऑफिसर्स, टाइम मैगज़ीन में शामिल 100 प्रभावशाली व्यक्तित्व, विश्वस्तरीय लेखक, एवं प्रसिद्द निवेशकों की लीग में अपना भी नाम जोड़ लिया है जो इससे पहले इस प्रतिष्ठित कांफ्रेंस में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हो चुके हैं।
मॉन्टेनेग्रो सरकार के आधिकारिक इंटरनेट कंपनी डॉट मी द्वारा आयोजित इस कांफ्रेंस में दुनिया भर के बिज़नेस, कॉर्पोरेट एवं राजनैतिक लीडर्स शामिल हुए। शरद के कांफ्रेंस में आने के घोषणा पर यूरोप के में लोगों का उत्साह बढ़ गया और कुछ ही घंटे में 100 से भी अधिक स्थानीय, यूरोपियन एवं अंतर्राष्ट्रीय मीडिया शरद के यूरोप दौरे को कवर किया।

उनकी लोकप्रियता और उनके प्रति लोगों का उत्साह कितना था इसका अंदाजा लोगों द्वारा उनके लिए किया गये ट्विट से आप लगा सकतें हैं।

डेक्सकनेक्ट का हुआ लॉन्चिंग 
यूरोपियन मीडिया को सम्बोधित करते हुए शरद ने एक बड़ा ऐलान किया। शरद ने अपने सामाजिक संस्था डेक्सटेरिटी ग्लोबल के प्लेटफार्म डेक्सकनेक्ट को दुनिया भर के मीडिया, नॉनप्रोफिट्स, स्कूलों एवं सरकारों के मुफ्त में ओपन किया। डेक्सकनेक्ट बच्चों को शैक्षिक अवसरों (जैसे स्कालरशिप, कम्पटीशन, इत्यादि) से जोड़ने का काम करती है।
डेक्सकनेक्ट के दुनिया भर के मीडिया को ओपन होने के साथ ही अपना बिहार डेक्सकनेक्ट के पहले हिंदी मीडिया पार्टनरों में से एक है। आपन बिहार पर अब आप डेक्सकनेक्ट के दुनिया भर के शैक्षिक अवसरों की जानकारी पा सकते हैं।
क्या कहा शरद सागर ने 
अपने भाषण में जिसका शीर्षक था “कॉर्पोरेशंस आर पीपल: कंपनियां भी इंसान हैं” में शरद ने दुनिया भर के निगमों को सहानुभूतिक बनने का आग्रह किया एवं उन्हें समाज के समस्याओं का इनोवेशन द्वारा समाधान निकालने के लिए आमंत्रित किया।

शरद ने कहा – “इक्कीसवी शताब्दी में कंपनियों को समाज में अपने भूमिका को एक नए स्तर पर ले जाने की आवश्यकता है। उद्यमियों को समाज के कठिन समस्याओं का समाधान निकलना होगा।” शरद ने इतिहास से उदहारण देते हुए कहा की निगमों ने इनोवेशन एवं टेक्नोलॉजी से मानवजाति को आगे बढ़ाया है और आज के समय में इस काम को और भी तेज़ी से आगे बढ़ाने की ज़रूरत है।”

 

कौन है शरद सागर 

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित सामजिक उद्यमी शरद सागर डेक्सटेरिटी ग्लोबल के संस्थापक एवं सीईओ हैं। शरद बिहार से पहले उद्यमी हैं जिन्हें फ़ोर्ब्स पत्रिका ने अपने 30 अंडर 30 की सूची में शामिल किया। अक्टूबर 2016 में शरद एकमात्र भारतीय थे जिन्हें तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने व्हाइट हाउस आने का निमंत्रण दिया। शरद की संस्था डेक्सटेरिटी ग्लोबल 12 लाख बच्चों के साथ काम कर चुकी है। डेक्सटेरिटी बच्चों को शैक्षिक अवसरों से जोड़ने का काम करती है एवं उन्हें विश्वस्तरीय लीडर्स के रूप में तैयार करती है।

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: