अमेरिका में ‘सुपर 30’ के संस्थापक आनन्द कुमार का सम्मान

विश्वप्रसिद्ध शिक्षक, बिहार के लाल और प्रसिद्ध सुपर30 के संस्थान आनंद कुमार ने फिर बिहार का नाम रौशन किया है। भारतीय-अमेरिकी समुदाय ने गरीब बच्चों को आईआईटी में दाखिला प्राप्त करने में मदद करने के लिए ‘सुपर 30’ के संस्थापक आनन्द कुमार को सम्मानित किया.

 

बिहार एंड झारखंड एसोसिएशन ऑफ नॉर्थ अमेरिका (बीएजीएएनए) की ओर से आयोजित समारोह में समुदाय के सदस्यों ने कम आय वाले छात्रों को निशुल्क कोचिंग देने के लिए कुमार की सराहना की.

 

फेडरेशन ऑफ इंडियन एसोसिएशन्स के अध्यक्ष रमेश कुमार और उपाध्यक्ष आलोक कुमार ने सुपर 30 के संस्थापक आनन्द कुमार को स्मृति चिन्ह दिया.

आनंद कुमार की सुपर 30 की संस्थान गरीब परिवारों के बच्चों का चयन करता है और उन्हें मुफ्त कोचिंग, भोजन और रहने की सुविधा देता है ताकि वे अपना ध्यान केवल आईआईटी-जेईई में सफल होने पर केंद्रित करें। एक दशक पहले आनंद कुमार और बिहार के पूर्व पुलिस महानिदेशक अभयानंद ने मिलकर सुपर 30 कोचिंग संस्थान शुरू किया था। बाद में अभयानंद संस्थान से अलग हो गए। ‘टाइम्स’ पत्रिका की सूची ‘बेस्ट ऑफ एशिया 2010’ में सुपर 30 को शामिल किया गया था।

 

सुपर 30 कोचिंग में प्रवेश पाने के लिए गरीब परिवार के छात्रों को एक प्रतियोगिता परीक्षा पास करनी होती है और इसके बाद रोज उन्हें 16 घंटे तक पढ़ाई के लिए प्रतिबद्ध रहना पड़ता है।

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: