कल होगा गाँधी सेतु के समान्तर बने पीपा पुल का उद्घाटन, जान लें आवागमन के नियम।

पिछले कुछ सालों से महात्मा गाँधी सेतु पुल पर ट्रैफिक दबाव बहुत ज्यादा बना हुआ है, इसका सबसे बड़ा कारण है कि कुछ साल पहले ये पुल क्षतिग्रस्त हो गया था।

क्षतिग्रस्त सेतु की तस्वीर

इस सेतु पर ट्रैफिक का दबाव कम करने के लिए गंगा नदी पर बने पीपा पुल पर लोगों का आवागमन शुरू हो गया है। हालांकि इसका औपचारिक उद्घाटन शनिवार को डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव करेंगे।

तेजस्वी ने इस बारे में आज ट्वीट कर भी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि, गांधी सेतु के पुनर्निर्माण और जाम की समस्या को देखते हुए रिकॉर्ड समय में तैयार नवनिर्मित पीपा पुल कल जनता को समर्पित किया जायेगा।

इस पीपा पुल पर आवागमन के नियम इस प्रकार है

इस नवनिर्मित पीपा पुल से होकर दोपहिया और छोटे चारपहिया वाहन चलेगें। पुल के बन जाने से महात्मा सेतु पर गाड़ियों का लोड काफी कम हो जाएगा साथ ही जाम की समस्या में भी राहत मिलेगी। फिलहाल प्रशासन की तरह से पुल पर आवाजाही को लेकर कुछ बंदिशें लगायी गयी हैं। ट्रैफिक एसपी द्वारा जारी दिशानिर्देशों के अनुसार छोटे चारपहिया वाहन सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक पीपा पुल होकर हाजीपुर से पटना की ओर चलेंगे। वहीँ शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे तक ये वाहन पटना से हाजीपुर की ओर जायेंगे। दोपहिया चालकों को इस प्रतिबंध से मुक्त रखा गया है। इस पुल से किसी भी प्रकार के व्यावसायिक वाहन का परिचालन प्रतिबंधित रहेगा। हालांकि इस दौरान गांधी सेतु होकर सभी वाहन पूर्ववत आ-जा सकेंगे।

बंद रहेगा सेतु का पश्चिमी फ्लेंक

इस बीच गांधी सेतु पर गाड़ियों के परिचालन को लेकर नए दिशानिर्देश भी जारी किये गए हैं। इसके अनुसार फिलहाल प्रायोगिक तौर पर शनिवार 18 फरवरी की संध्या 5 बजे से रविवार शाम 8 बजे तक सेतु का पश्चिमी लेन पूर्णतः बंद रहेगा। इस दौरान दोनों तरफ से गाड़ियों का परिचालन पूर्वी लेन होकर ही किया जाएगा। बता दें कि इसी साल जून माह तक गांधी सेतु को तोड़कर इसके लिए स्टील का सुपर स्ट्रक्चर बनाने का काम शुरू करने की संभावना है।

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: