1497 Views

नीतीश ने खुलकर किया मोदी का समर्थन, विपक्ष के भारत बंद आंदोलन का साथ नहीं देगी पार्टी जदयू

पटना: बिहार में सत्ताधारी महागठबंधन में शामिल जेडीयू ने नोटबंदी को लेकर सोमवार को विपक्ष की ओर से आहूत भारत बंद आंदोलन से खुद को अलग कर लिया है. जेडीयू ने शनिवार को स्पष्ट कर दिया कि पार्टी किसी भी वैसे आंदोलन का समर्थन नहीं करेगी, जो नोटबंदी के खिलाफ है

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि पीएम मोदी नोटबंदी के बाद अब बेनामी संपत्ति पर प्रहार करें तथा शराबबंदी भी लागू करें। बिहार के मुख्यमंत्री और पार्टी अध्यक्ष नीतीश कुमार की अध्यक्षता में पटना में शनिवार को पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की बैठक के बाद पार्टी ने यह साफ कर दिया है कि नोटबंदी को लेकर वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ खड़ी है.

इस बैठक में जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह, राज्यसभा सांसद हरिवंश, केसी त्यागी सहित कई वरिष्ठ नेतागण मौजूद थे. बैठक के बाद पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने पत्रकारों से कहा, ‘नोटबंदी के साथ ही केंद्र सरकार अगर बेनामी संपत्ति के लिए ठोस कदम उठाती है, तो पार्टी उसका भी पूरा समर्थन करेगी.’

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी ने नोटबंदी पर केंद्र सरकार का साथ देने का फैसला लिया है. हमारी पार्टी कालेधन पर रोक लगाने के लिए बड़े नोटों को चलन से बाहर करने की मांग काफी दिनों से कर रही थी.

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार प्रारंभ से ही नोटबंदी को लेकर केंद्र सरकार के समर्थन में हैं, जबकि महागठबंधन में शामिल राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) और कांग्रेस नोटबंदी का विरोध कर रहे हैं. वामपंथी सहित विपक्ष में शामिल कई दलों ने नोटबंदी के खिलाफ भारत बंद का आह्वान किया है.

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: