यह है बिहार की लेडी डॉन, बिहार पुलिस के थानाध्यक्ष से डीआईजी तक से माँगी लाखों की रंगदारी

lady-don_325_082216120826

 

बिहार में रंगदारी मांगने का मामला नया नहीं है। बराबर अखबार में किसी अपराधियों द्वारा किसी व्यवसायी,  डॉक्टर या नेता से रंगदारी मांगने की खबर छपती रहती है।  मगर इस बार पुलीस वालों से ही रंगदारी मांगा जा रहा है।

दरअसल बिहार के बेतिया में पुलिस अधिकारियों से रंगदारी मांगने के मामले में पुलिस ने एक लेडी डॉन गिरफ्तार किया है. पुलिस इस लेडी डॉन से पूछताछ कर रही है.
बिहार की इस नई लेडी डॉन का नाम निशा है. निशा ‘जीविका’ नाम की एक सामाजिक संस्था में काम करती है. पुलिस के मुताबिक, निशा ने 18 अगस्त को अपने मोबाइल से बेतिया पुलिस के तमाम आला अधिकारियों को एसएमएस कर 20 लाख रुपये रंगदारी की मांग कर डाली. थानाध्यक्ष से लेकर डीआईजी तक अपने मोबाइल में 20 लाख रूपये की रंगदारी का एसएमएस देख दंग रह गए.
यही नहीं बल्कि निशा ने एसएमएस में रंगदारी की रकम न देने पर नरकटियागंज रेलवे स्टेशन और शिकारपुर थाने को बम से उड़ाने की भी धमकी दे डाली. रंगदारी का एसएमएस भेजने के बाद निशा ने फोन को सही होने के लिए दे दिया, मगर उसका सिम अपने पास ही रखा. बेतिया पुलिस ने जरा भी देर न करते हुए निशा के नंबर को सर्विलांस पर डाला. सर्विलांस की मदद से रविवार को पुलिस को निशा का सुराग मिला और पुलिस ने लेडी डॉन निशा को बेतिया के रमौली गांव से गिरफ्तार कर लिया.
बेतिया के एएसपी राजेश कुमार ने बताया कि 20 वर्षीय निशा ने जिस सिम से रंगदारी के लिए पुलिस अधिकारियों को एसएमएस किया था, वह सिम उसके चाचा रतन राय के नाम से जारी किया गया है. पुलिस ने निशा और उसके चाचा रतन राय दोनों को गिरफ्तार कर लिया है. दोनों से पूछताछ जारी है.

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: