नीतीश सरकार इस योजना के तहत किसानों को देगी 10 हज़ार रूपये, यहाँ करें रजिस्ट्रेशन

इस फसल बिमा योजना में किसानों को कोई भी प्रीमियम राशि नहीं देनी होती है

kishan fasal bima yojna, PM kisan bima yojana, Nitish Kumar Fasal sahahyta yojna,

बिहार सरकार ने किसानों के लिए एक बहुत ही शानदार योजना लायी है| जिससे राज्य के लाखों किसानों को मदद मिल सकती है| इस साल खरीफ फसलों के लिए किसानों को फसल सहायता योजना का लाभ मिलेगा। यह योजना अगहनी धान, भदई मक्का और सोयाबीन के लिए किसानों के लिए है|

बिहार के सहकारिता विभाग ने इस संबंध में बुधवार को अधिसूचना जारी कर दिया| किसान सहकारिता विभाग की वेबसाइट के योजना पोर्टल पर ऑनलाइन निबंघन 31 जुलाई तक कर सकते हैं। आप यहाँ क्लिक करके भी रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं|

धान के फसल के लिए यह योजना 38 जिलों के 527 प्रखंडों के लिए है| मगर भागलपुर के नवगछिया, बिदुपुर, गोपलगंज, नारायणपुर, ईस्माइलपुर, रंगरा चौक और खरीक अंचल के धान के लिए यह योजना नहीं है। वही मक्का के फसल के लिए यह योजना सभी प्रखंड में लागू होगा| वहीं बेगूसराय, खगड़िया और समस्तीपुर के जिला में यह सोयाबीन के फसल पर भी लागू होगा|


यह भी पढ़ें: स्पेशल ट्रेन से लौट रहे मजदूरों को 500-500 रूपये देगी नीतीश सरकार, मगर ये है शर्त


यह बिहार सरकार कि योजना है जो पिछले साल लागू की गयी थी| खास बात यह है की इस फसल बिमा योजना में किसानों को कोई भी प्रीमियम राशि नहीं देनी होती है और न ही इसमें किसी बिमा कंपनी का लेना देना होता है|

ज्ञात हो कि बिहार ने केंद्र के फसल बिमा योजना के जगह पर अपनी यह योजना लागू की हुई है| इसमे फसल कटनी के बाद, फसल के क्षति के आकलन करके बिमा दी जाती है| इसबार 20 प्रतिशत से कम पर (चाहे आधा प्रतिशत ही क्यों न हो) 7500 रुपए प्रति हेक्टेयर क्षतिपूर्ति दी जाएगी। 20 प्रतिशत से अधिक नुकसान पर 10 हजार रुपए प्रति हेक्टेयर क्षतिपूर्ति राशि दी जाएगी।

Search Article

Your Emotions