बिहार आयेंगे योगी के मंत्री, नीतीश के बिहार से सिखेंगे काम करने का तरीका

​उत्तर प्रदेश के योगी सरकार के मंत्री और अफसरों का एक टीम बिहार अब बिहार आयेगा. बिहार सरकार ने सूबे में अनाज बांटने के लिए बहुत पहले ही कूपन सिस्टम लागू कर दिया है.  इसी व्यवस्था को उत्तर प्रदेश में व्यवस्थित ढंग से लागू करने के लिए योगी के मंत्री बिहार का रुख करेंगे. पिछली ही महीने योगी के मंत्रियों की एक टीम छत्तीसगढ़ भी गई थी. राज्य के खाद्य मंत्री और विभाग के अधिकारी छत्तीसगढ़ में धान की ख़रीद के साथ-साथ उन्होंने पीडीएस सिस्टम को भी देखा था.
भू- माफिया से निपटने के लिए टास्क फोर्स
पीछले दिनों उत्तर प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने राजस्व विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक में ये फैसला लिया. तीन स्तरीय टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा और कब्जे वाले जमीन की पहचान कर उन्हें छुड़ाने का काम किया जाएगा. जानकार बताते हैं कि ये फैसला सपा सरकार में मंत्रियों और अधिकारियों पर जमीन के अवैध कब्जे के आरोपों की पोल खोलने के लिए लिया गया है.

जिला स्तर पर टास्क फोर्स के हेड डीएम होंगे, मंडल स्तर पर कमीश्नर और राज्य स्तर पर चीफ सेक्रेटरी सर्वेसर्वा होंगे. पार्टी ने कुछ दिन पहले इसके लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी कर दिए थे. गौरतलब है कि बीजेपी के घोषणापत्र और चुनावी सभाओं में भू- माफियाओं का मुद्दा अहम था.

योजनाओं को आधार से जोड़ेंगे

जन कल्याणकारी योजनाओं को आधार कार्ड से जोड़ा जायेगा और ऑनलाइन भी किया जाएगा. जिन परिवारों को गैस चूल्हा दिया गया है उन्हें अब सरकारी मिट्टी का तेल नहीं मिलेगा. साथ ही फर्जी बीपीएल और राशन कार्ड वालों से योगी सरकार रिकवरी भी करेगी. साथ ही भूमिहीन किसानों के 2 बच्चों को बेहतर शिक्षा मुहैया कराने के लिए छात्रवृत्ति भी पारदर्शिता के साथ उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं.

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: