मुम्बई में आधी रात को ड्रग्स माफिया पर चला शिवदीप लांडे डंडा

शिवदीप लांडे जैसे अधिकारी को फर्क नहीं पड़ता की वो किस राज्य में हैं बस जहां भी होते हैं जुर्म और अपराधियो के साथ दो-दो हाथ खेलते रहते हैं। मुम्बई में शिवदीप लांडे ड्रग्स माफियाओं की नींद उड़ा रखी है। शिवदीप लांडे इस वक़्त मुम्बई क्राइम ब्रांच की एंटी नारकोटिक्स सेल की ज़िम्मेदारी संभाल रहे हैं।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और मुंबई पुलिस कमिश्नर को ये शिकायतें आ रही थी इलाकों में धड़ल्ले से अवैध तरीके से ड्रग्स की तस्करी हो रही है और ड्रग्स तस्करों ने लोगों का जीन महल कर रखा है। युवा या तो नशे की लत के शिकार बन रहे हैं या फिर इनके साथ पैसों के चक्कर में तस्करी में शामिल हो रहे हैं। इस शिकायत के बाद पुलिस कमिश्नर ने तुरंत नारकोटिक्स सेल को इसका जिम्मा सौंपा और इनकी धड़ पकड़ की हिदायत दी। जिसके बाद डिप्टी पुलिस कमिश्नर शिवदीप लांडे ने उन लोगों के खिलाफ एक ऑपरेशन लांच किया। एक टीम गठित की गयी और खुद शिवदीप लांडे ने इसको लीड किया। टीम ने सबसे पहले उन इलाकों का अंडर कवर रहकर मुयाना किया जहाँ ये तस्कर सबसे ज़्यादा सक्रिय। पूरी जानकारी इकठ्ठा करने के बाद कप्तान लांडे को सूचित किया गया।दबंग लांडे अपने बिहारी रूप में नज़र आये और खुद उतर गए इस पूरे ऑपरेशन को अंजाम तक पहुंचाने। हमारे पास इस ऑपरेशन की जो तस्वीरें हैं उसमे लांडे किसी फ़िल्मी हीरो की तरह दिखाई देते हैं। शरीर पर जीन्स और शर्ट और हाँथ में डंडा।


आधी रात को शुरू हुए इस ऑपरेशन में लांडे और उनकी टीम ने माहिम इलाके में सक्रिय ड्रागियों और तस्करों को दौड़ा दौड़ा कर पकड़ा। इस पूरे कार्येवाही में  10 लोगों को गिरफ्तार भी किया ये पूरा ऑपरेशन एंटी नारकोटिक्स सेल के डीसीपी शिवदीप लांडे के नेतृत्व में किया गया।

अब तक की जांच में जो बात सामने आयी है, उसके मुताबिक ड्रग्स खरीद फरोख्त का ये पूरा काला धंधा कस्टम के बने खाली और खंडर हुए दफ्तर में चलता था। जो पिछले कई सालों से खाली पड़ा है।

Search Article

Your Emotions

    %d bloggers like this: