एक बिहारी सब पर भारी मनोरंजन

बिहार की एक आवाज जिसके बिना छठ गीतों का बजना बेमानी है, जिसे सुन परदेसी घर आने लगते हैं

दिवाली जाते ही बिहार का महापर्व सबका ध्यान अपनी तरफ खींचना शुरू कर देता है| महिलाओं और पुरुषों, दोनों की तैयारियों और जिम्मेदारियों की लिस्ट लगभग बराबर होती है| यही नहीं, जिसके यहाँ छठ पूजा हो रहा हो और जिसके यहाँ पूजा न हो रहा हो, उन दोनों की तैयारियाँ और जिम्मेदारियाँ भी लगभग बराबर […]