picsart_12-04-08-40-32
आपना लेख

क्या कारण है, जो गरीब, किसान, और मजदुर के बच्चे सफल हो जाते है

किसान और गरीब परिवार के बच्चे इतनी अधिक संख्या में कैसे IAS बन जाता है? ये आप बखूबी जानते होंगे की किसान कितने मेहनती होते हैं। और बिहार की अधिकतर लोग किसान ही हैं, और वो कृषि पर आश्रित होते हैं। जब वो दिन-रात मेहनत करके फसल उपजाते हैं और फसल के कटाई के समय […]

picsart_11-17-06-51-28

जंक्शनों पर हाई स्पीड wifi से कैसे जुड़े

जब आपको ट्रेनों का स्टेटस चेक करना होता है या ट्रेन छूटने के वजह से बोर होते है,और आपके पास इन्टरनेट कनेक्शन न होती हो और आप स्टेशन पर लगी फ्री wifi सेवा का लाभ भी नही उठा पाते तो बहुत दुःख होती है जाने आप कैसे कर सकते हैं फ्री wifi को connect जुड़ने […]

बिट्टू मिश्रा अपने रोबोट के साथ
एक बिहारी सब पर भारी खबरें बिहार की टेक्नो जोन बिहारी विशेषता राष्ट्रीय खबर

बिहार के इस बेटे ने किया कमाल, बनाया रोबोट

जी हाँ, अगर आप बिहार के प्रतिभा के मजाक बनाने के आदि हैं तो आपको लगेगा झटका क्योंकि बिहार के सुपौल जिले के वीरपुर गांव के इंजिनीरिंग के छात्र बिट्टू मिश्रा ने तकनीक के कमाल से ऐसा मानव रोबोट बनाया जिसकी तारीफ देश में ही नही वल्कि विदेशों में भी यह आश्चर्य का विषय बन गया है। ग्रेटर नोएडा स्थित जीडी बजाज कॉलेज के इंजीनियरिंग के तीसरे वर्ष के छात्र ने एक ऐसा रोबोट तैयार किया है जो आपके घर में आपका हर एक काम कर सकता है। बिट्टू बताते हैं की उन्हें बचपन से ही रोबोट में काफी दिलचस्पी थी और बचपन से इसके प्रति आर्कषित थे। बिट्टू ने अपने रोबोट का नाम B2 रखा है वो लोगों के जरूरत के अनुसार रोबोट तैयार करते हैं इसके तहत उन्होंने अपनी एक कंपनी ” Wow Instrument ” खोला है। बिट्टू के इस कारनामे के लिए उन्हें कई पुरस्कार भी मिले हैं। उन्हें इंडस्ट्रियल रोबोट पर रिसर्च करने जर्मनी से बुलावा भी आया है। उन्हें ” Innovation Idea Generation Award ” से भी सम्मानित किया जा चूका है। बिट्टू का ये रोबोट आपके घरेलू काम में भी सहायता करेगा, ये रोबोट लोगों को सुरक्षा भी प्रदान करता है, बिट्टू का ये रोबोट होटल, रेस्टोरेंट में वेटर का भी कर सकता है।   बिट्टू अपने कंपनी ‘wow Instrument’ के माध्यम से इसका व्यावसायिक रूप देना चाह रहे हैं, लोगों के ऑर्डर के अनुसार अलग-अलग तरह के रोबोट बनाने के कार्य में जुटे हैं। बिट्टू के इस कारनामे से ‘मेक इन इंडिया ‘ योजना को भी मजबूती मिलेगी।