wp-1484147225194.jpg
बिहारी विशेषता

भिखमंगों एवं वेंडरों के हाथों लुटने को मजबूर हैं भारतीय रेल के यात्री

​भारतीय रेल में यात्री सिर्फ लेट लतीफी से ही नहीं बल्कि कई और गंभीर समस्याओं से जूझ रहे हैं। भारतीय रेल में यात्रियों की सुरक्षा पर शुरू से ही एक बड़ा प्रश्नचिन्ह रहा है।  ट्रेन का सफर आजकल कुछ ज्यादा महंगा साबित हो रहा है। जी नहीं, हम कैशलेश इकोनॉमी की मार या बढ़ते टिकट […]

fb_img_1483601824521
पर्यटन स्थल बिहारी विशेषता

गुरू गोविंद सिंह जी के प्रकाशोत्सव के भव्य आयोजन से प्रफुल्लित हुए श्रद्धालू

बिहार का नज़ारा बदला-बदला सा है| भव्य रंग-ओ-रौशनी से सारा शहर सजा हुआ है| अपने साथ परदेसियों को देख बिहारवासियों के मन प्रफुल्लित हैं| जैसे एक नया बिहार हमारे सामने आ रहा हो| लाखों श्रद्धालुओं के लिए उत्तम प्रबंध, सेवा-सद्भाव और इससे बढ़कर एक खास धर्म के महोत्सव में हर धर्म का समान रूप से […]

img-20161218-wa0020
बिहारी विशेषता

Pff: भगीरथ बन बिहारी फिल्म उद्योग में जान फूंक गए गंगा कुमार

फ़िल्में, फ़िल्मी सितारे, अवार्ड्स और प्रेस! अमूमन फ़िल्म फेस्टिवल्स में यही तो होते हैं| इनसब के साथ जब जज्बात, संभावनाएँ और यादें जुड़ जाती हैं तो बन जाता है ‘पटना फ़िल्म फेस्टिवल’| शायद इन्हीं तमाम चीजों का संगम न हो सका था तभी तो 2007 से शुरू हुए पटना फ़िल्म फेस्टिवल की इतनी व्यापक चर्चा […]

बिहारी विशेषता

बिहार के खिलाफ काटजू के बेतुके बोल पर उन्हीं की भाषा में एक ठेठ बिहारी का करारा जवाब

प्रिय काटजू चच्चा ओह! देखिये न, ये मैं आपको क्या कह गयी, ‘प्रिय’ और ‘चच्चा’| यूँ तो आप पर दोनों ही जंच नहीं रहा है| जो जंच रहा है वो बस आपका नाम ही है, ‘काटजू’| आप सच में काट ही जाते हैं, कुछ कहते हैं तो| खैर, बड़ी चर्चा हो रही है आपकी| कितने […]

IMG-20160921-WA0018
खबरें बिहार की टेक्नो जोन बिहारी विशेषता

इस बिहारी की सोच ने Whatsaap को दिया यह नया शानदार फिचर !

दुनिया की सबसे बड़ी मैसेजिंग मोबाइल App, WhatsApp, एक बार फिर चर्चा के केंद्र में है| इस से जुड़े पोस्ट्स और आर्टिकल्स वायरल हो रहे हैं| 21 सितम्बर 2016 को टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने भी इस अपडेट को अपने अखबार में प्रमुखता से जगह दी है| WhatsApp पर होने वाले हर अपडेट्स अपने users को […]

14442661_1101931333222384_492015142_n
बिहारी विशेषता

संतानों के लंबी उम्र के लिए एक दिन का निर्जला उपवास रखती हैं माताएँ

आज सारी माताएँ व्रत में हैं| जीवित पुत्रिका व्रत जो है आज| क्या कुछ नहीं करतीं माएँ अपने बच्चों के सुंदर, आरामदायक जीवन और लम्बी उम्र के लिए| पूत कपूत भले हो जाएँ, माता कुमाता नहीं हो सकती| माँ का स्थान यूँ ही भगवान् से ऊपर का नहीं होता| माँ किसी मायने में भगवान से […]

12611287
बिहारी विशेषता

जब कुछ नहीं सूझता तब हिंदी सूझती है

आज हिंदी दिवस के सुअवसर पर अर्पणा राजपूत जी ने कुछ कहने की कोशिश की है| आपना बिहार की तरफ से आप सभी को हिंदी दिवस की बधाई और अनुरोध है, हिंदी को पढ़िए, पढ़ाइये, लिखिए और बोलिए भी| जितना हो सके हिंदी को फैलाइए, आदत बनाइए| अपनी मातृभाषा का सम्मान करें और अगली पीढ़ी […]

14191666_1078303972251787_797486105_o
बिहारी विशेषता

बिहार पुलिस के दबंग अफसर शिवदीप लांडे से खास बात चीत

शिवदीप लांडे बिहार ही नहीं बल्कि पूरे देश में सबसे प्रसिद्ध अफसर में से एक हैं मगर लोग उनके बारे बहुत कम ही जानते हैं। लड़कियों को छेड़ने वालो को सबक सिखाने और तस्करों को पकड़ने के लिए लोग उनकी मिसाल देते हैं मगर हकीकत इससे कहीं ज्यादा है। असल जिंदगी में वह मीडिया के […]

14159903_1076449725770545_457614071_n
Aapna Bihar Exclusive Education Featured आपना लेख

कुछ कहना चाहती हैं बेटियाँ

“आवाज नीची कर के बात करो; ऐसे ठहाके न लगाओ; पैर मोड़ के बैठना सीखो; दुपट्टा लिए बिना कहाँ चली; आधे घंटे से ज्यादा मत रुकना; भाई को साथ ले जाओ; 10 साल की हो गयी, अब क्या खेलती ही रहेगी ताउम्र; ये क्या प्यार-व्यार वाली शायरी लिखती हो; सुशील लड़कियाँ किसी को जवाब नहीं […]

rajendra prashad
बिहारी क्रांतिकारी बिहारी विशेषता

#BihariKrantikari: #14 राजेंद्र बाबू की ईमानदारी और सच्चाई एक सच्चे देशभक्त की तस्वीर प्रतिबिंबित करती है

“यूँ तो दुनिया के समंदर में कमी होती नहीं, लाखों मोती हैं, पर इस आब का मोती नहीं|” राजेंद्र बाबू का नाम लेते ही ऐसा अनुभव होने लगता है, मानो किसी वीतराग, शांत एवं सरल संन्यासी का नाम लिया जा रहा हो और सहसा एक भोली-भाली, निश्छल, निष्कपट, निर्दोष, सौम्य मूर्ती सामने आती है| भागीरथी […]

IMG-20160813-WA0019
बिहारी क्रांतिकारी बिहारी विशेषता

#BihariKrantikar: #13 जयप्रकाश वह नाम जिसे इतिहास समादर देता है,

जिससे हो सकता उऋण नहीं, ऋण भार दबा तन रोम-रोम, सौ बार जन्म भी लूँ यदि मैं, जिसके हित जीवन होम-होम|| जयप्रकाश नारायण जी के बारे में ब्रिटिश विद्वान ह्यूग गैट्स केल ने कहा था, “उनकी एक हस्ती है जिनका समाजवाद केवल उनकी राजनीति में ही नहीं चमकता, केवल उनकी सिखावत में ही नहीं रहता, […]

IMG-20160811-WA0032
बिहारी क्रांतिकारी बिहारी विशेषता

#BihariKrantikari: #12 इन सात वीरों ने मर के भी तिरंगे की शान बढ़ाई

“गिरते हैं शहसवार ही मैदान-ए-जंग में, वो तिफ़्ल क्या गिरेंगे जो घुटनों के बल चले” किसी शायर की ये पंक्तियाँ उन सात वीर सपूतों की दृढ़ इच्छाशक्ति, देशप्रेम और समर्पण को दर्शाने के लिए बिल्कुल सही लगती हैं, जिनकी मूर्ति बिहार राजभवन परिसर में आज भी गर्व से देखी जाई जाती है| 11 अगस्त 1942 […]

13987205_1058473984234786_1721037912_o
बिहारी विशेषता

#Biharikrantikari: #11 इन्होंने एयरफोर्स को दिए थे 3 फाइटर प्लेन्स

दरभंगा राज अपनी शान-ओ-शौकत के लिए जाना जाया जाता था। इनका इतिहास 16वीं शताब्दी से शुरू हुआ थ। इसी वंश के आखिरी शासक हुए महाराजा कमलेश्वर सिंह बहादुर, जो ब्रिटिश शासन के साथ-साथ गाँधी जी के भी प्रिय थे| खुद महात्मा गाँधी ने कहा था, “महाराजा कामेश्वर सिंह बहुत ही अच्छे व्यक्ति हैं, और मेरे […]

mahaveer
Aapna Bihar Exclusive बिहारी क्रांतिकारी बिहारी विशेषता

#BihariKrantikari: #6 धरती पर जब धर्म की हानि होने लगी, तब बिहार में भगवान ने अवतार लिया

बिहार तीन प्रमुख धर्मों के उद्गम का साक्षी रहा है- जैन धर्म, बौद्ध धर्म और सीख धर्म| जैन धर्म के 24वें तीर्थंकर महावीर जैन का जन्म करीब ढाई हजार साल पहले, बिहार के वैशाली के गणतंत्र राज्य क्षत्रिय कुंडलपुर में हुआ था| ईसा के 599 वर्ष पूर्व पिता सिद्धार्थ और माता त्रिशला के यहाँ चैत्र […]

13639426_1051824704899714_596567012_o
Aapna Bihar Exclusive बिहारी क्रांतिकारी बिहारी विशेषता

#BihariKrantikari: #3 इन्होंने उठाई थी जिम्मेदारी अस्पृश्यता उन्मूलन की

बिहार के क्रांतिकारियों और देशभक्तों में एक नाम आता है श्री जगजीवन राम का| राजनीति, समाज सुधार और खास कर अस्पृश्यता उन्मूलन में इनका योगदान अविश्मरणीय रहा है| इस लोकप्रिय नेता को लोग ‘बाबूजी’ कह कर भी सम्बोधित करते थे| बिहार के भोजपुर जिले के चंदवा गाँव में 5 अप्रैल 1908 ई० में जन्में जगजीवन […]

IMG-20160729-WA0000
Aapna Bihar Exclusive बिहारी क्रांतिकारी बिहारी विशेषता

#BihariKrantikari: इस देशभक्त ने एक हाथ में गीता और दूसरे हाथ में कृपाण रख देश की आजादी की कसम खाई थी

बिहार के मुंगेर जिला में माउर नामक ग्राम का एक संभ्रांत कृषक परिवार| 21 अक्टूबर 1887 ई० को पिता हरिहर सिंह के चौथे पुत्र के रूप में आये श्री कृष्ण सिंह| पिताजी शिवभक्त थे, जिसका प्रभाव पुत्रों पर भी आजीवन बना रहा| श्री कृष्ण सिंह न सिर्फ बिहार के मुख्यमंत्री रहे बल्कि ये आधुनिक बिहार […]