Trending in Bihar

Latest Stories

खुशखबरी: बिहार के लिए चलेगी दिवाली-छठ स्पेशल ट्रेनें, इस बार नहीं घर जाने में परेशानी

दिवाली और छठ की छुट्टी सभी बिहारियों के लिए खास होता है| पुरे साल किसी छुट्टी में वो घर गया हो या नहीं गया हो, मगर छठ की छुट्टी में वह पूरी कोशिश करता है की वह घर जरुर जाए| मगर हर साल काफी संख्या में लोग ट्रेन का टिकट नहीं मिलने के कारण घर नहीं जा पाते हैं| इस साल फिर छठ पूजा आ रहा है मगर महीनों पहले ही बिहार के लिए पहले से मौजूद सभी टिकटे बुक हो चुकी है|

इस बार भी रेलवे स्पेशल ट्रेन चलाने का फैसला किया है| रेलवे की माने तो इसबार तैयारी पूरी है| पूजा में घर जाने में किसी को कोई दिक्कत नहीं होगी|

र्व-मध्य रेल के जीएम एलसी त्रिवेदी ने सोमवार को आयोजित प्रेस वार्ता में की। उन्होंने कहा कि रेलवे की परीक्षाओं के लिए एक करोड़ से अधिक परीक्षार्थी अलग-अलग शहरों में जा रहे हैं। लेकिन ईसीआर के स्पेशल ट्रेनों की व्यवस्था के कारण कहीं से परेशानी की कोई शिकायत नहीं मिली।ऐसी ही व्यवस्था पूजा स्पेशल ट्रेनों की होगी।

उन्होंने कहा कि बिहार में रेल परियोजनओं के विकास पर अभी कुल 40 हजार करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं। इसके तहत कई महत्वपूर्ण कार्य जिसमें मोकामा में नया रेल पुल, जेपी रेल पुल पर पाटलिपुत्रा-पहलेजा रेल लाइन का दोहरीकरण, हाजीपुर-बछवारा, हाजीपुर-रामदयालुनगर, समस्तीपुर-दरभंगा, किऊल-गया लाइन का दोहरीकरण किया जा रहा है।

अगले एक से डेढ़ साल में ईसीआर में 100 प्रतिशत तक रेल लाइन विद्युतीकरण का कार्य पूरा कर लिया जाएगा। इससे ट्रेनों की गति के साथ परिचालन समय में भी सुधार होगा। सामरिक रूप से महत्वपूर्ण भारत-नेपाल सीमा तक ट्रेनों का परिचालन शुरू हो गया है। दोनों देशों के विदेश मंत्रालय से काठमांडू तक रेल परिचालन पर सहमति बनी है। इसके लिए इरकॉन को सर्वे का काम दिया गया है। ईसीआर जल्द ही काठमांडू तक रेल सेवा का विस्तार करने में सफल होगा।

एक प्रश्न के जवाब में जीएम ने कहा कि कुहरे के कारण ट्रेनें बहुत ज्यादा लेट नहीं होगी। उत्तर भारत जानेवाली महत्वपूर्ण ट्रेनों में फॉग सेफ डिवाइस लगाया जाएगा। इससे ट्रेनों की गति पर फॉग का असर कम होगा। बताया कि यात्रियों की सुरक्षा सर्वोपरि है। इस कारण थोड़ी लेटलतीफी स्वीकार की जा सकती है।

ईसीआर ने 7370 करोड़ रुपये की आय अर्जित की
मौके पर जीएम ने चालू वित्तीय वर्ष की प्रथम छमाही के दौरान ईसीआर की उपलब्धियों को भी गिनाया। कहा कि अगस्त तक ईसीआर ने 7370 करोड़ रुपये की आय अर्जित की है जो पिछले वर्ष की तुलना में रिकॉर्ड 18.27 प्रतिशत अधिक है। ईसीआर में यात्री सुविधाओं में भी सुधार हुआ है। मोबाइल से जेनरल टिकट की सुविधा, 21 रेलवे स्टेशन पर रविवार को भी आरक्षण टिकट की सुविधा, 5 जोड़ी नई ट्रेनों का परिचालन आदि कार्य किए गए।

Search Article

Your Emotions

    Leave a Comment

    %d bloggers like this: