Trending in Bihar

Latest Stories

365 Views

खुशखबरी! पद्म भूषण अवॉर्ड के लिए BCCI ने की धोनी के नाम की सिफारिश, देश का तीसरा सबसे बड़ा सम्मान

भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी का नाम भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने पद्म भूषण अवॉर्ड के लिए प्रस्तावित किया है। धौनी दुनिया के इकलौते ऐसे कप्तान हैं, जिनकी कप्तानी में टीम ने तीनों आईसीसी ट्रॉफी जीती हों। धौनी ने हाल ही में श्रीलंका के खिलाफ 300 वनडे खेलने का रिकॉर्ड बनाया था। इसी के साथ वनडे में 100 स्टंपिंग करने वाले वो दुनिया के इकलौते विकेटकीपर भी हैं।

धौनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने 2007 आईसीसी वर्ल्ड टी20, 2011 वर्ल्ड कप और 2013 आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी का खिताब जीता है। धौनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जारी पांच मैचों की सीरीज के पहले वनडे में भी एक ऐतिहासिक कारनामा कर दिखाया। इस मैच में उन्होंने मुश्किल हालात में पचासा जड़ा, जो उनके करियर का 100वां इंटरनेशनल पचासा था। धौनी की ही कप्तानी में टीम इंडिया टेस्ट में नंबर-1 बना था। उन्होंने 2014 के अंत में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लिया था। इसी साल की शुरुआत में उन्होंने वनडे और टी-20 टीम की कप्तानी छोड़ दी थी। बीसीसीआई के एक अधिकारी के मुताबिक, ‘इस फैसले को लेकर बीसीसीआई में कोई मतभेद नहीं था। धौनी की कप्तानी में भारत ने 2011 का वर्ल्ड कप और 2007 का आईसीसी वर्ल्ड ट्वेंटी-20 जीता है।

धौनी 10,000 वनडे रन के करीब हैं, 90 से अधिक टेस्ट मैच खेल चुके हैं और इस समय उनसे बेहतर कोई विकल्प हो ही नहीं सकता।’ धौनी को इससे पहले भी खेल रत्न, पद्म श्री और अर्जुन अवॉर्ड भी मिल चुका है। अगर धौनी का नाम पद्म भूषण के लिए चुना जाता है, तो वे ये अवॉर्ड पाने वाले 11वें क्रिकेटर होंगे।

धौनी से पहले सचिन तेंदुलकर, कपिल देव, सुनील गावस्कर, राहुल द्रविड़, चंदू बोर्डे, प्रोफेसर डीबी देवधर, कर्नल सीके नायडू और लाला अमरनाथ को ये सम्मान दिया जा चुका है। धौनी अभी तक 302 वनडे मैच में 9737 रन बना चुके हैं, धौनी का वनडे में औसत 52.34 है। उनके नाम 10 वनडे सेंचुरी हैं।

रिपोर्ट: गुंजन कुमार

Search Article

Your Emotions

    Leave a Comment

    %d bloggers like this: