2016_10$largeimg03_Oct_2016_070337962
खबरें बिहार की राष्ट्रीय खबर

नीतीश कुमार ने लागू किया अपना निश्चय, पढ़ाई के लिए कर्ज, नौकरी ढूंढ़ने को मिलेगा भत्ता

बिहार सरकार और बिहार की जनता के लिए रविवार का दिन एतिहासिक रहा । गांधी जयंती को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सात निश्चय की अहम कड़ी आर्थिक हल युवाओं को बल के तहत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना, स्वयं सहायता भत्ता और कुशल युवा कार्यक्रम की शुरुआत की। तीनों योजनाओं का लाभ 20-25 वर्ष उम्र के युवाओं को मिलेगा। अब उच्च शिक्षा हासिल करने में न तो गरीबी बाधक बनेगी और न ही नौकरी तलाशने में पैसे की कमी आड़े आएगी।

1_1475450108

स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड : 4 लाख से ज्यादा भी ले सकेंगे कर्ज 

– इसके तहत 12वीं पास छात्र-छात्रा बीए, बीएससी, इंजीनियरिंग, मेडिकल, प्रबंधन व विधि की पढ़ाई के लिए कर्ज ले सकेंगे।

– कर्ज की अधिकतम सीमा कुछ भी हो सकती है पर सरकार 4 लाख तक के मूलधन और ब्याज पर बैंकों को गारंटी देगी।

– छात्रों को बैंक नहीं जाना पड़ेगा। वे ऑनलाइन आवेदन देंगे। जिला निबंधन केंद्र से उनको एसएमएस, ई-मेल या फोन पर आवेदन की जांच के लिए एक तिथि बता दी जाएगी।

– उस तिथि को निबंधन केंद्र पर आवेदन का थर्ड पार्टी वेरिफिकेशन होगा।

स्वयं सहायता भत्ता : 2 साल तक हर माह एक-एक हजार रुपए

– नौकरी ढूंढ़ने के लिए 2 साल तक हर माह 1-1 हजार दिए जाएंगे। 20-25 साल के युवा लाभ उठा सकेंगे। वैसे गरीब जो 12वीं पास के बाद नहीं पढ़ पा रहे हों, उनको लाभ होगा।

– कुशल युवा : इसके तहत 534 प्रखंडों में कौशल प्रशिक्षण केंद्र खोला गया है। यहां पर कंप्यूटर ट्रेनिंग, व्यवहार कौशल व संवाद कौशल (हिन्दी-अंग्रेजी) की ट्रेनिंग मिलेगी।

13 % युवा उच्च शिक्षा हासिल कर पाते हैं, 35% है लक्ष्य

– मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में ऐसा पहले कभी नहीं हुआ कि किसी राज्य ने बैंक कर्ज पर मूलधन के साथ-साथ ब्याज पर भी गारंटी दी हो।

– आज राज्य में मात्र 13 प्रतिशत युवा उच्च शिक्षा हासिल करते हैं। हम चाहते हैं कि यह संख्या 30-35 प्रतिशत हो जाए।

– हमारी योजना युवाओं के लिए यह बेहतरीन अवसर है। इससे उनकी आर्थिक समस्याओं का समाधान हो जाएगा। बैंकों से दौड़ाए जाने की सूचना अब गुजरे जमाने की बात हो गई है।

फरवरी से मिलेगा कॉलेजों में मुफ्त वाई-फाई

 

– मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के सभी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में फरवरी से मुफ्त वाई-फाई की सुविधा मिल जाएगी।

– उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद शिक्षामंत्री डॉ. अशोक चौधरी और विभाग के सचिव राहुल सिंह से पूछा कि इस समयावधि तक काम पूरा हो जाएगा न? दोनों ने जवाब दिया- हां।

– तब मुख्यमंत्री ने कहा कि हम जो कहते हैं, वो करते हैं। एक बार कुछ कह देने पर जरा भी चूक हो तो मुझे नींद नहीं आती। इसलिए वाई-फाई योजना में लेट नहीं होना चाहिए।

 

 

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.