जरूरी सूचना: आधार कार्ड के बिना अब नहीं दे पाएंगे बिहार बोर्ड का परीक्षा

PicsArt_09-04-03.58.58

बिहार बोर्ड ने छात्रों के लिए आधार कार्ड अनिवार्य कर दिया है। बोर्ड की शनिवार को हुई बैठक में इंटर परीक्षा को लेकर यह अहम फैसला किया है। बोर्ड ने इंटर के छात्रों को परीक्षा फॉर्म भरने के लिए आधार कार्ड को आवश्यक कर दिया है।

बोर्ड के निर्णय के अनुसार अगर किसी छात्र का आधार कार्ड नहीं रहेगा, तो उस छात्र को परीक्षा फॉर्म भरने से वंचित किया जा सकता है।

साथ ही परीक्षा पद्धति और बोर्ड की कामों में पारदर्शिता रखने के लिए हर छात्रों के लिए अलग-अलग डिजिटल लॉकर भी बनाए जाएंगे।

 

बिहार में टॉपर्स घोटाला उजागर होने के बाद बिहार विद्यालय परीक्षा समिति दोबारा अपने छवि को पाक साफ करने में जुटी है. आनंद किशोर का कहना है कि कई बार लोग अपनी उम्र कम कराने के लिए बार-बार मैट्रिक की परीक्षा देते हैं. ऐसे में आधार कार्ड से जब इंरोलमेंट होगा, तो पारदर्शिता रहेगी और फर्जीवाडे की गुंजाइश नहीं होगी. इसकी शुरुआत इसी साल मैट्रिक के कंपार्टमेंट परीक्षा से की जा रही है. कंपार्टमेंट परीक्षा अक्टूबर में होनी है. ऐसे में छात्रों के पास आधार कार्ड बनवाने के लिए एक महीने का समय है.
ये होंगे फायदे
आनंद किशोर ने बताया कि आधार नबंर जोड़ने के पीछे मुख्य उद्देश्य छात्रों को सर्टिफिकेट वेरिफिकेशन में होने वाली परेशानियों से बचाना है. साथ ही दूसरे प्रदेशों में नौकरी कर रहे युवाओं के सर्टिफिकेट के वेरिफिकेशन में आधार कार्ड की अहम भूमिका होगी. एक क्लिक में छात्र का पूरा प्रोफाइल मिल जाएगा. उन्होंने यह भी बताया कि बिहार बोर्ड पारदर्शिता लाने के साथ-साथ फर्जीवाडे पर लगाम लगाने के लिए तकनीक को तवज्जो दे रहा है. इस तकनीक से छात्रों के एडमिट कार्ड, सर्टिफिकेट, प्रोविजनल मार्क्सशीट, माइग्रेशन आदि सभी सर्टिफिकेट डिजिटल लॉक में सुरक्षित रहेंगे.

Facebook Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

top