Instagram Slider

  •    Ashokdham Luckheyshray Bihar Aapnabihar
    5 days ago by aapnabihar अशोकधाम मंदिर, लखीसराय  #Ashokdham   #Luckheyshray   #Bihar   #Aapnabihar 
  • 1 week ago by aapnabihar जितिया स्पेशल
  • 2 days ago by aapnabihar पटना - बख्तियारपुर
  •    Mahabodhi Bodhgaya Gaya BiharTourism bihar Aapnabihar
    2 weeks ago by aapnabihar महाबोधि मंदिर, बोधगया  #Mahabodhi   #Bodhgaya   #Gaya   #BiharTourism   #bihar   #Aapnabihar 
  • She is coming soon DurgaPuja Bihar Aapnabihar
    1 day ago by aapnabihar She is coming soon  #DurgaPuja   #Bihar   #Aapnabihar 
  •          hellip
    19 hours ago by aapnabihar प्रो कबड्डी में पटना पाइरेट्स की एक और जीत ✌  #Patna   #PatnaPirates   #Victory   #ProKabaddi   #Bihar   #Aapnabihar 
  • Weather  Patna Bihar Aapnabihar
    24 hours ago by aapnabihar Weather ❤  #Patna   #Bihar   #Aapnabihar 
  •          hellip
    2 weeks ago by aapnabihar गुरु अगर चाहे तो साधारण इंसान को भी महान बना दे। बिहार के ही आचार्य चाणक्य थे जिन्होंने एक साधारण से बालक चंद्रगुप्त मौर्य को शिक्षा दे हिन्दुस्तान का सबसे बड़ा सम्राट बना दिया था। आज भी बिहार की धरती पर ऐसे महान शिक्षकों की कमी नहीं है जो लगातार सैकड़ों बच्चों के भविष्य सँवारने में लगे हुए हैं ।  #Aapnabihar   #Bihar   #TeachersDay 
  • 4 days ago by aapnabihar
  •          hellip
    2 weeks ago by aapnabihar केबीसी के सेट पर अमिताभ बच्चन ने कहा ' बिहार के इस लाल (आनंद कुमार) पर पूरे देश को गर्व है'  #Aapnabihar   #bihar   #AnandKumar   #KBC   #AmitabhBachchan 

Latest Stories

Featured Articles
BQhdufh
aapna bihar is one of the best & trusted portal of bihar.good luck.

Featured Articles
BQhdufh
aapna bihar is one of the best & trusted portal of bihar.good luck.

बिहार का यह पुलिस अफसर अपने बहादुरी के लिए मशहूर है तो इतिहास से इनको गहरा प्रेम

Vikash vaibhav

बिहार के इस पुलिस अफसर को मिट्टी में मिल जाना मंजूर है मगर अपने स्वाभिमान, ईमानदारी, कर्तव्य और ज़मीर से समझौता करना हरगिज़ मंजूर नहीं| कोई उनके रहते कानून तोड़े, चाहे वो कितने भी बड़े साहब क्यों न हों, उसे किसी भी कीमत पर मंजूर नहीं।

हम बात कर रहे हैं बिहार के बेगूसराय निवासी ,बिहार कैडर के 2003 बैच के आईपीएस अधिकारी,  आईआईटी कानपुर से इंजीनियरिंग में ग्रैजुएट और पटना के पूर्व एसएसपी विकास वैभव की; जो पद पर रहते हुए अपने ईमानदारी, कर्तव्यनिष्ठता और बहादुरी से दूसरों के लिए मिसाल कायम कर रहें है।

विकास वैभव का नाम सुर्खियों में तब आया जब उन्हें एनआईए से वापस बुला पटना का एसएसपी बनाया गया।
पटना आते ही पहले ही दिन विकास वैभव ने अपनी बहादुरी का प्रमाण देते हुए बाहुबली सत्ताधारी विधायक अनंत सिंह के घर छापेमारी कर उन्हें जेल भेज तहलका मचा दिया। पटना एसएसपी के रूप में विकास वैभव ने शानदार पुलिसिंग का परिचय दिया, जिससे पहली बार लोगों को खाकी वर्दी की ताकत का एहसास हुआ और अपराधियों में पटना पुलिस का खौफ बना।

IPS Vikash vaibhav

पटना के एसएसपी रहते हुए विकास वैभव ने वो कर दिखाया जिसके बारे में सोचने की भी कोई हिम्मत नहीं कर सकता था! अपनी पोस्टिंग के दुसरे दिन ही विकास वैभव ने जदयू के बाहुबली विधायक अनंत सिंह को गिरफ्तार कर जेल तो भेजा ही साथ ही उन्होंने एक पुलिस अधिकारी का कर्तव्य निभाते हुए राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव एवं बिहार के वर्तमान शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी के खिलाफ केस दर्ज कर सियासी गलियारों में खलबली मचा दी।  इतना ही नहीं लालू-नीतिश के स्वाभिमान रैली के दौरान लग रहे अवैध पोस्टर बैनर पर एसएसपी ने न सिर्फ रोक लगा दी बल्कि कई नेताओं पर केस भी दर्ज कर डाला.
आलम ये था कि लालू और नीतिश की रैली में अब सिर्फ एक दिन बचा था और पटना शहर में रैली के नाम-ओ-निशान नहीं दिख रहे थे।

पटना पुलिस की कमान मिलने के बाद विकास वैभव के शानदार कारनामों की बदौलत पटना पुलिस की उपलब्धियों में जबर्दस्त उछाल आया साथ ही पुलिस की छवि में काफी सुधार देखा गया। आलम यह था कि अपराधी तो दूर, पुलिस को अपना ग़ुलाम समझने वाले नेताओं को भी पुलिस के पावर का अंदाजा लग गया था और पुलिस से किसी की पैरवी करने से पहले दस बार सोचते थे।

जिस अफ़सर ने अपने कामों से पूरे पुलिस विभाग का नाम रौशन किया उसे प्रशंसा और सम्मान के बदले ईमानदारी की सजा मिली, पदोन्नति के बदले हाथों में ट्रांसफर का अॉडर थमा दिया गया। उन्हें सिर्फ 2 महीने 4 दिनों में ही पटना से हटा दिया गया। मगर इस अल्प अवधि में ही जो काम और आदर्श विकास वैभव ने पटना पुलिस के एसएसपी के रूप में किया वह अभी भी पटना के लोगों को याद है।

vikash vaibhav

एनआईए में रहते हुए विकास वैभव ने कई आतंकी वारदातों की गुत्थियों को सुलझाया है ! वर्ष 2013 में पटना के गांधी मैदान में हुए बम ब्लास्ट एवं बोधगया बम ब्लास्ट की जांच टीम की अगुआई कर चुके हैं।

इससे पहले विकास वैभव नेपाल बॉर्डर पर नक्सल प्रभावित बगहा में एसपी के रूप में सुनियोजित तरीके से ऑपरेशन और स्थानीय लोगों की मदद से काम कर नक्सलियों को काबू करने में सफलता हासिल की साथ ही रोहतास जिले की कमान मिलने पर वहाँ के घने जंगलों में नक्सलियों के मांद में घुस उनपर हमला कर नक्सलियों को पीछे हटने पर मजबूर कर दिया। विकास वैभव ने रोहतास में नक्सलियों के खिलाफ कई खतरनाक और साहसिक अभियान को सफलतापूर्वक अंजाम दिया जिसके लिए पटना में मुख्यमंत्री नीतिश कुमार ने उन्हें सम्मानित भी किया था।  इन्होंने कई महत्वपूर्ण अभियानों के दौरान हुए अपने अनुभवों को अपने ब्लोग में लिखा भी है (copinbihar.blogspot.com)| बगहा और रोहतास में अपने कार्यकाल के दौरान वे स्थानीय लोगों में भी बहुत लोकप्रिय रहे।

ips vikash

रोहतास के एसपी रहने के दौरान, पटना में मुख्यमंत्री सम्मानित करते हुए

 

अपराधियों को पकड़ना कर्तव्य है तो इतिहास से रूबरू होना उनका शौक

FB_IMG_1472385835316

विकास वैभव को चुनौतियों से लड़ना पसंद है तो इतिहास से हमेशा रूबरू होना उनका शौक। विकास वैभव जहाँ भी जाते हैं वहाँ के इतिहास को खंगालने की कोशिश करते हैं।

वैभव ‘साइलेंट पेजेज’ नाम के एक ब्लॉग भी चलाते हैं, जिसमें वह बिहार के साथ-साथ देश के कई जगहों के बारे में लिखते हैं और साथ ही सोशल साइटों पर अपने पेजेज  के माध्यम से ऐतिहासिक स्थलों की खूबसूरत व् अनदेखी तस्वीरें और उसके बारे में रोचक जानकारियाँ भी लोगों के साथ शेयर करते है। वैभव ने बताया कि बिहार के रोहतासगढ़ और कैमूर हिल घूमने में उन्हें बेहद अच्छा लगता है। वह अपनी पत्नी और बच्चों के साथ घूमना पसंद करते हैं। उनके परिवार को पहले इतना घूमना पसंद नहीं था, लेकिन धीरे-धीरे उनका मन लगने लगा।

vikash

ऐतिहासिक धरोहरों को संजोने और उनसे जुड़ी जानकारियों को सहेजने से जुडे कामों के लिए राजधानी के प्रतिष्ठित मगध महिला कॉलेज में ‘सेंटर फॉर जेंडर स्टडीज’ के इंटरनेशनल कांफ्रेंस में विकास वैभव को इस वर्ष सम्मानित भी किया गया है।

वह कहते हैं कि उन्हें बचपन से ही इतिहास में दिलचस्पी रही है। ये बात अलग है कि दसवीं तक ही उन्होंने इतिहास की पढ़ाई की लेकिन उनकी इतिहास को जानने की इच्छा उसके बाद भी बनी रही। उनका मानना है कि भारत को जीवित रखने के लिए उसके इतिहास को जिंदा रखना बेहद जरूरी है।

FB_IMG_1472385792737

वैभव फिलहाल आईजी ट्रेनिंग के सहायक के पद पर तैनात हैं। विकास वैभव जैसे अधिकारी अपनी बहादुरी और ईमानदारी के लिए जाने जाए जाते हैं। वे कागज पे नहीं जमीनी स्तर पे काम करने वाले अफ़सर हैं जिसे चुनौतियों से लड़ना पसंद है।

सरकार को ऐसे अफ़सरों को प्रोत्साहित एवं इनके क्षमता का उपयोग करना चाहिए। कानून का सख़्ती से पालन करने वाले इस अधिकारी को तंग करने बजाए सरकार इनकी कर्तव्यनिष्ठता का सदुपयोग करे तो परिणाम काफी बेहतर होगा। सिर्फ सुशासन की रट लगाने से कुछ भी हासिल नहीं होगा बल्कि ऐसे जांबाज अधिकारियों को खुली छूट देनी होगी ताकि स्वतंत्रतापूर्वक कानून का राज कायम किया जा सके। खैर विकास वैभव जैसे अधिकारी जहाँ भी रहेंगे , अपनी जिम्मेदारियाँ बखूबी निभाते रहेंगे।

Facebook Comments

Search Article

2 Comments

  1. बिहार के इस IPS ऑफिसर को सेंटिंग् पोस्टिंग देना, राजनितिक कायरता का परिचायक है । श्री विकाश वैभव जैसे ऑफिसर को फिर से पटना का SSP बनाया जाये । ताकि हमारे समाज को फिर से एक जुझारू ,कर्मठ एवम् जांबाज़ ऑफिसर मिल सके । और हमारे बिहार को एक नई पहचान मिल सके ।

    Reply
  2. आप ने सही लिखा अभी कितनाCछूट गया है
    एक मोटी किताब बन जायगी !बिहार मे विकास सर जेसा IPS नही है

    Reply

Leave a Comment

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: