हल चलाने वाले का बेटा उड़ाएगा फाइटर प्लेन

PicsArt_07-04-11.54.45

IMG-20160606-WA0004-picsay

किसी भी मां-बाप के लिए सबसे बड़ा खुशी का पल तब आता है जब वो अपने संतान को कामयाबी के शिखर पर पहुंचता हुआ देख ले। बिहार के रोहतास जिला  के सूर्यपुरा प्रखंड में पड़रिया नामका एक गांव है और इस गांव के एक मध्यमवर्गीय किसान हैं सत्येंद्र सिंह। आज सत्येंद्र सिंह की खुशियों का कोई ठिकाना नहीं हैं क्योंकि उनका बेटा विवेक एयरफोर्स में फ्लाइंग ऑफिसर जो बन गया है। सत्येंद्र सिंह के घर पर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है और जो भी बधाई देने पहुंचे रहे हैं उनका मुंह मीठा कराया जा रहा है।

अब हम आपको विवेक के बारे में कुछ और जानकारी दे दें। बचपन से ही मेधावी विवेक की प्रारंभिक शिक्षा-दीक्षा गांव के ही स्कूल में हुई। उसके बाद विवेक का एडमिशन झुमरी तलैया के मशहूर सैनिक स्कूल में हुआ। विवेक ने एनडीए की परीक्षा पास किया। एयरफोर्स में 22 वां रैंक हासिल करने के बाद अब विवेक फ्लाइंग ऑफिसर बन गए हैं। पुणे में ट्रेनिंग पूरी करने के बाद विवेक को फिलहाल हैदराबाद में तैनात किया गया है।

ट्रेनिंग के बाद जब विवेक गांव वापस लौटे तो अपनी कामयाबी का श्रेय उन्होंने माता-पिता और अपने गुरु हिटजी कोचिंग संस्थान के निदेशक आर के श्रीवास्तव को दिया। विवेक ने कहा कि मां पिता के आशीर्वाद की ही बदौलत आज वो इस मुकाम तक पहुंचे हैं। इस मौके पर उन्होंने कहा कि कठिन परिश्रम और लगन हो तो अपने लक्ष्य तक आसानी से पहुंचा जा सकता है। विवेक की सफलता पर उनके गांववालों को भी गर्व महसूस हो रहा है।

Facebook Comments

Tags

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.

top