toppers scam
खबरें बिहार की राष्ट्रीय खबर

ये हैं असली टॉपर, इन्‍हें सलाम कीजिए

कुमुद सिंह/पटना: पत्रकारिता पेशा नहीं है। पत्रकारिता जूनून है। हर दिन हजारों लाखों खबरें हमारे आपके सामने से गुजर जाती है, लेकिन दशकों में कोई एक ऐसी खबर होती है जो हमें वर्षों तक याद रहती है।

toppers scam

आज बिहार में हजारों पत्रकार हैं, लेकिन जिन दो पत्रकारों के कारण हजारों पत्रकार अपनी पत्रकारिता पर गर्व कर रहा है वो यही हैं। टॉपर मामले के असली जमीनी हीरो।

 


चारा घोटाला हो या कोयला घोटाला, अक्‍सर जब मामले राष्‍ट्रीय स्‍तर पर चले जाते हैं, तो बडे और प्रसिद्ध पत्रकरों की भीड में वो पत्रकार कहीं दब जाता था, जिसकी नजर सूचना के बदले समचार पर पहुंची थी। जिस प्रकार वर्षा की हर बूंद मोती नहीं बनती है, वैसे ही हर सूचना में समाचार नहीं होता है।

अभी बिहार के दो बडे पत्रकार अमिताभ ओझा अौर इंदुभूषण जी के वाल पर इन दो नायकों के संबंध में पोस्‍ट दिखा तो शेयर करने से खुद को नहीं रोक पायी। ये दो चेहरे वही है जिन्‍होंने मेहनत कर एक ऐसी खबर ( बिहार बोर्ड इंटर टॉपर घोटाला ) सबके सामने लायी है, जिसने पूरे देश को हिला कर रख दिया है। अगर इनका लिय हुआ इंटरव्यू नहीं आया होता, तो इतने बड़े घोटाले का पर्दाफाश नहीं हो पाता।

 


जी हां, ये हैं बिहार के वैशाली जिले के दो पत्रकार जिसे न्यूज की दुनिया में स्ट्रिंगर कहते हैं। गुलाबी शर्ट में इंडिया न्यूज के चन्द्रमणि और उनके बगल में सहारा समय के प्रकाश मधुप हैं। गौरतलब है कि न्‍यूज चैनलों के मुकाबले अखबारों के पत्रकार बिहार में दस गुणा ज्‍यादा हैं।
लेकिन जहां अखबार के पत्रकार सूचना समेटते रहे, वहीं, रिजल्ट के दो दिन बाद साइंस के टॉपर सौरभ से चन्द्रमणि ने अपने मित्र प्रकाश के साथ इंटरव्यू किया। चन्द्रमणि को विज्ञान की जानकारी थी, सो उन्होंने पूछा कि पीरियॉडिक टेबल में मोस्ट रिएक्टिव एलिमेंट क्या होता है। इसपर सौरभ ने जवाब दिया ‘एल्युमिनियम’।

फिर पूछा कि सोडियम के इलेक्ट्रॉनिक स्ट्रक्चर के बाहरी कक्षा में कितने इलेक्ट्रॉन होते हैं। वह नहीं बता पाया। इस सवाल के बाद सौरभ के माता –पिता अपने बेटे के बचाव में आ गये और कहने लगे कि अभी यह बच्चा है।

 

इंटर आर्ट्स की टॉपर रूबी से प्रकाश मधुप ने सवाल पूछा कि उसका कौन-कौन सा सब्जेक्ट था, साथ में कैमरा खुद कर रहे थे। रूबी बताने लगी- इंग्लिश, ज्योग्राफी, म्यूजिक, प्रोडिकल साइंस। रुबी राय ज्योग्राफी भी ठीक से नहीं बोल पा रही थी। जब रूबी का जवाब आया तब वह खुद भी हंसने लगे जिसकी वजह से कैमरा भी हिलने लगा। ये सच वीडियो में देखा जा सकता है। फिर उससे पूछा गया कि यह ‘प्रोडिकल साइंस’ क्या होता है? यह नया विषय कौन सा है और इसमें किस चीज की पढ़ाई होती है। रुबी राय बोली— खाना बनाने के बारे में पढ़ाया जाता है। जब उनसे यह पूछा गया कि होम साइंस में क्या पढ़ाया जाता है, तो उसका भी जवाब नहीं दे सकी। रुबी राय के जवाब से उनके मां–बाप भी हंस पड़े थे।

 


अब मैं कुमुद सिंह भरतीय मीडिया का हिस्‍सा बनते हुए दावा करती हूं कि यह पूरी कहनी मेरी एक्‍सक्‍लूसिव है..सिर्फ मेरे वाल पर…। दूसरे के काम का नंबर कैसे अपने मार्कशीट में दर्ज कर लिया जाता है यह कोई भारतीय मीडिया के टॉपरों से सीखे।

 

सभार- कुमुद सिंह

Facebook Comments

One thought on “ये हैं असली टॉपर, इन्‍हें सलाम कीजिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit is exhausted. Please reload CAPTCHA.